अम्फान ने किया विक्षोभ को बेअसर, गर्मी का पिछले पांच साल का रिकार्ड टूटने के आसार

Highlights

  • राजस्थान से आ रही अब वेस्ट यूपी में गर्म हवा
  • मेरठ समेत वेस्ट यूपी में अब बढ़ रहा है तापतान
  • इस बार मानसून की शुरुआत में हो जाएगी देरी

 

By: sanjay sharma

Published: 23 May 2020, 11:50 AM IST

मेरठ। अम्फान ने जम्मू-कश्मीर के ऊपर बने विक्षोभ को बेअसर कर दिया है। अम्फान की वजह से हवा का रूख बदल गया है। जिसके कारण पिछले दो दिन में मेरठ समेत वेस्ट यूपी के अधिकतर जनपदों में तापमान में उबाल आया है। अब राजस्थान की ओर से मेरठ और वेस्ट यूपी में हवा का प्रवाह हो रहा है। जिसके कारण अब तापमान में उबाल आने लगा है।शनिवार की सुबह तापमान 41 डिग्री तक पहुंच गया, जो शाम तक 43 डिग्री तक पहुंचने का अनुमान जताया जा रहा है।

यह भी पढ़ेंः दरोगा समेत पीएसी के तीन जवान कोरोना से संक्रमित, छह नए केस के बाद पॉजिटिव मरीज हुए 364

वहीं राजस्थान की ओर से आने वाली गर्म हवाओं से वातावरण में खुश्की और गरमी रहने के पूरे चांस बने हुए हैं। मौसम विभाग के डा. एन. सुभाष ने बताया कि आने वाले दिनों में मेरठ में गर्मी जून में पिछले पांच वर्षों का रिकार्ड तोड़ सकती है। क्योंकि इस बार अभी तक गर्मी ने अपने वो तेवर नहीं दिखाए हैं जो कि अमूमन दिखते हैं। उन्होंने बताया कि तापमान के चलते अब जून के महीने में भीषण गर्मी के लिए मेरठ समेत वेस्ट यूपी के जनपदों के लोगों को तैयार रहना चाहिए। इसी के साथ लोगों को अपने सेहत के बारे में भी ध्यान देना होगा।

यह भी पढ़ेंः सीएम योगी के इस मंत्री ने अव्यवस्थाओं पर जताई नाराजगी, डीएम को 48 घंटे में कार्रवाई के आदेश

बता दें कि इस बार कोरोना वायरस को लेकर संपूर्ण लॉकडाउन है। पिछले दो महीने से लोग अपने घरों में कैद हैं। वहीं सभी प्रतिष्ठान भी बंद हैं। जिसका असर ग्लोबल वार्मिंग पर भी पड़ा है। यही कारण रहा कि अमूमन अप्रैल में जो तापमान 39 डिग्री तक पहुंच जाता था वह अप्रैल क्या मई में भी 34 से 36 डिग्री तक बना रहा। मई के शुरूआत में ही मौसम मार्च जैसा सुहाना था, लेकिन अब जून में प्रचंड गर्मी अपने शबाब पर होगी और लोगों को इससे राहत मिलने वाली नहीं है।

Show More
sanjay sharma Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned