योगी की पुलिस का काम किया ग्रामीणों ने, कुख्यात उधम सिंह के तीन शूटरों ने मांगी रंगदारी तो किया यह हाल

योगी की पुलिस का काम किया ग्रामीणों ने, कुख्यात उधम सिंह के तीन शूटरों ने मांगी रंगदारी तो किया यह हाल

Sanjay Kumar Sharma | Publish: Oct, 13 2018 05:30:13 PM (IST) Meerut, Uttar Pradesh, India

बाद में पुलिस ने आकर छुड़ाया, वरना ग्रामीण उनकी बुरी हालत कर देते

मेरठ। सरूरपुर के हर्रा गांव में हथियार लेकर एक दूध कारोबारी से रंगदारी मांगने पहुंचे तीन शातिरों की ग्रामीणों ने जमकर खबर ली। ग्रामीणों ने तीनों को कमरे में बंद कर दिया और जबरदस्त तरीके से मार लगाई। इतना ही नहीं ग्रामीणों ने उनकी पिस्टल भी छीन ली। मौके पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों के कब्जे से बचाया। सूत्रों की मानें तो अगर पुलिस मौके पर नहीं पहुंचती तो ग्रामीण के हाथों तीनों शातिरों की मौत हो जाती। जिस दुग्ध कारोबारी से रकम वसूलने पहुंचे थे उसने तीनों आरोपी युवकों पर रंगदारी मांगने का आरोप लगाते हुए तहरीर दी है। तीनों युवक शातिर बदमाश और कुख्यात उधम सिंह के करीबी बताए जा रहे हैं। हालांकि उनसे बरामद पिस्टल लाइसेंसी है।

यह भी पढ़ेंः Breaking: साइकिल से स्कूल आ रहा था छात्र, बस ने रौंद दिया तो छात्रों ने लगा दिया जाम, प्रधानाचार्य के अनुरोध पर वापस लौटे

दूध कारोबारी को धमकाने आैर रंगदारी का आरोप

जानकारी के अनुसार हर्रा निवासी मोहम्मद अली दूध का कारोबार करता है। मोहम्मद अली का आरोप है कि सुबह के समय कार सवार तीन युवक उसके घर पहुंचे और खुद को कुख्यात उधम सिंह गिरोह का शूटर बताते हुुए उस पर पिस्टल तान दी। आरोप है कि युवकों ने मोहम्मद अली को जान से मारने की धमकी देते हुए उससे रंगदारी मांगी। इसी बीच मोहम्मद अली ने शोर मचाया तो ग्रामीणों ने आरोपियों को घेर लिया। ग्रामीणों ने तीनों युवकों को दबोचकर उनकी पिटाई कर डाली। मौके पर पहुंची पुलिस ने तीनों आरोपियों को हिरासत में ले लिया। आरोपियों के कब्जे से दो पिस्टल बरामद हुईं। पूछताछ के दौरान आरोपियों ने अपने नाम हजूराबाद गढ़ी बागपत निवासी अंकित पुत्र करण सिंह, छुर निवासी अरूण पुत्र नरेन्द्र और करनावल निवासी प्रवेन्द्र पुत्र सतपाल बताए। अरूण और प्रवेन्द्र के पास से बरामद पिस्टलों का लाइसेंस उनके भाइयों के नाम पर था।

यह भी पढ़ेंः Railway Group D Exam: एसटीएफ ने प्रश्न पत्र आउट करने से पहले पकड़े सात मुन्ना भार्इ, इनके पास से भारी मात्रा में मिला चौंका देने वाला यह सामान

आरोपियों ने रंगदारी से किया इनकार

वहीं, आरोपियों ने रंगदारी के आरोप से इनकार करते हुए बताया कि उनकी मोहम्मद अली पर काफी रकम बकाया थी और वह उसी का तकादा करने आए थे। हालांकि तीनों युवकों के खिलाफ थानों में संगीन मामले दर्ज हैं और वह कुख्यात उधम सिंह के करीबी बताए जा रहे हैं। पीड़ित व्यापारी ने तीनों के खिलाफ तहरीर दी है।

Ad Block is Banned