script38628 new corona cases and 617 death in past 24 hour | कोरोना का खतरा बरकरार: 24 घंटे में आए 38628 नए केस, 600 से ज्यादा की मौत | Patrika News

कोरोना का खतरा बरकरार: 24 घंटे में आए 38628 नए केस, 600 से ज्यादा की मौत

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय (Health Ministry) के मुताबिक, पिछले 24 घंटों में देश में कोरोना संक्रमण के 38 हजार से ज्यादा नए मामले दर्ज किए गए है। इस दौरान 600 से ज्यादा मरीजों की मौत हुई है।

नई दिल्ली

Updated: August 07, 2021 11:15:40 am

नई दिल्ली। देश में महामारी कोरोना वायरस (corona virus) की दूसरी लहर भले ही कम हो गई लेकिन खतरा अभी टला नहीं है। देश में रोजाना आ रहे कोविड-19 के आंकड़े काफी डरावने है। कोरोना संक्रमित मरीजों का यह ग्राफ तीसरी लहर (Third Wave) की ओर इशारा कर रहा है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय (Health Ministry) के मुताबिक, पिछले 24 घंटों में देश में कोरोना संक्रमण के 38 हजार से ज्यादा नए मामले दर्ज किए गए है। इस दौरान 600 से ज्यादा मरीजों की मौत हुई है।

corona cases
corona cases

देश में 4,12,153 एक्टिव केस
स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, बीते 24 घंटों में कोरोना वायरस के 38 हजार 628 नए केस सामने आए हैं। इस दौरान कुल 617 लोगों की मौत हो गई है। 40 हजार 17 लोग पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं। देश में कोविड के एक्टिव मामले 4 लाख 12 हजार 153 पर आ गए हैं जो कुल मामलों का 1.29 प्रतिशत है। वहीं ठीक होने वालों की कुल संख्या 3 करोड़ 10 लाख 55 हजार 861 हो गई है। इसके साथ ही रिकवरी रेट 97.37 प्रतिशत पर बना हुआ है।


49,55,138 ने लगवाई वैक्सीन
पिछले 24 घंटे में 49 लाख 55 हजार 138 लोगों को कोरोना वैक्‍सीन लगाई गई है। इस प्रकार से देश में अब तक 50,10,09,609 लोगों को वैक्‍सीन लगाई जा चुकी है। देश में वैक्सीन ड्राइव के तीसरे चरण के दौरान 18 से 44 साल के 16.92 लोगों को पहला डोज और 1.07 करोड़ लोगों को दूसरा डोज लगाया जा चुका है। इसके अलावा कोरोना संक्रमण की वजह से देश के अलग अलग राज्यों में अभी तक 4,27,371 मरीजों की जान गई है।

यह भी पढ़ें

जेल में बंदियों को दी जा रही हलवाई (कुक) की ट्रेनिंग, बाहर कर सकेंगे स्वरोजगार

केरल में अब भी सबसे ज्यादा संक्रमित
केरल में 24 घंटे में 19,948 लोग संक्रमित पाए गए है जबकि 187 लोगों की मौत हो गई। इस दौरान 19,480 लोग ठीक होकर अपने घर चले गए। फिलहाल प्रदेश में 1.78 लाख मरीजों का इलाज चल रहा है।
महाराष्ट्र में फिर डेल्टा वेरिएंट का कहर
महाराष्ट्र में कोरोना के डेल्टा वेरिएंट का खतरा एक बार फिर बढ़ा नजर आ रहा है। महाराष्ट्र के नासिक शहर में डेल्टा वेरिएंट से 30 संक्रमित मरीजों के मिलने के बाद प्रशासन में हड़कंप मच गया है। महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमण के अभी भी रोज 5000 मामले सामने आ रहे हैं। नासिक से पहले पुणे में भी डेल्टा वेरिएंट को दो संक्रमित मरीज मिल चुके हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

'हर घर तिरंगा' अभियान में शामिल हुई PM नरेंद्र मोदी की मां हीराबेन, बच्‍चों के संग फहराया राष्‍ट्रीय ध्‍वज7,500 स्टूडेंट्स ने मिलकर बनाया सबसे बड़ा ह्यूमन फ्लैग, गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज हुआ नामबिहारः सत्ता गंवाते ही NDA के 3 सांसद पाला बदलने को तैयार, महागठबंधन में शामिल होने की चल रही चर्चा'फ्री रेवड़ी ' कल्चर व स्कूल के मुद्दे पर संबित्र पात्रा ने AAP को घेरा, कहा- 701 स्कूलों में प्रिंसिपल नहीं, 745 स्कूलों में नहीं पढ़ाया जाता विज्ञानPM मोदी ने कॉमनवेल्थ गेम्स में हिस्सा लेने वाले दल से मुलाकात की, कहा- विजेताओं से मिलकर हो रहा गर्वप्रियंका के बाद अब सोनिया गांधी भी दोबारा हुईं कोरोना पॉजिटिव, तेजस्वी यादव ने कल ही की थी मुलाकातजम्मू कश्मीर में टेरर लिंक मामले में बिट्टा कराटे की पत्नी समेत चार सरकारी कर्मचारी बर्खास्त2009 में UPSC किया टॉप, 2019 में राजनीति के लिए नौकरी छोड़ी, अब 2022 में फिर कैसे IAS बने शाह फैसल?
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.