अगस्ता वेस्टलैंड मामला: अदालत ने 23 मई तक के लिए बढ़ाई सुशेन मोहन गुप्ता की न्यायिक हिरासत

  • दिल्ली की अदालत ने बढ़ाई सुशेन मोहन गुप्ता की न्यायिक हिरासत
  • अगस्ता वेस्टलैंड डील के कथित बिचौलिए हैं सुशेन मोहन गुप्ता
  • ED ने दिल्ली से की थी गिरफ्तारी

नई दिल्ली। VVIP हेलीकॉप्टर घोटाले अगस्ता वेस्टलैंड मामले ( agusta Westland money laundering case) में दिल्ली की एक अदालत ने कथित बिचौलिए सुशेन मोहन गुप्ता की न्यायिक हिरासत बढ़ा दी है। कोर्ट ने अब सुशेन गुप्ता को 23 मई तक के लिए बढ़ा दी है। इससे पहले भी गुप्ता की हिरासत कई बार बढ़ाई जा चुकी है।

 

बिचौलिए डेविड सिम्स को समन

बीते 3 मई को सीबीआई अदालत ने 9 मई तक के लिए गुप्ता की हिरासत बढ़ाई थी। बता दें कि इस मनी लॉन्ड्रिंग केस में इससे पहले सीबीआई की विशेष अदालत (Special CBI Court) ने डील के कथित बिचौलिए डेविड सिम्स को समन जारी किया था। इसके साथ ही कोर्ट ने दो अन्य कंपनियों को समन जारी किया है। कथित बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल के पार्टनर बताए जाने वाले डेविड को इससे पहले भी कोर्ट ने समन जारी किया था। प्रवर्तन निदेशालय (ED) की ओर से सप्लीमेंट्री चार्जशीट फाइल किए जाने के बाद कोर्ट ने डेविड को पेश होने का आदेश दिया था।

यह भी पढ़ें- फरीदाबाद: वोटरों को प्रभावित करने की कोशिश में था पोलिंग एजेंट, वीडियो वायरल होने पर EC ने लिया एक्शन, गिरफ्तार

केस के गवाह राजीव सक्सेना की याचिका पर सुनवाई

बता दें कि इससे पहले पिछले हफ्ते कोर्ट घोटाले के गवाह बने राजीव सक्सेना की याचिका पर सुनवाई के लिए मंजूरी दी थी। सक्सेना की याचिका पर सात मई को सुनवाई की जाएगी। गौरतलब है कि करीब 3 हजार 600 करोड़ रुपये के अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर डील केेस में ईडी ने सुशेन मोहन गुप्ता को दिल्ली से गिरफ्तार किया था। जबकि इस केस को लेकर वकील गौतम खेतान और ब्रिटिश मूल के बिचौलिये क्रिश्चियन मिशेल भी गिरफ्त में हैं।

Shweta Singh Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned