तमिलनाडु में 'अन्ना कैंटीन' नाम से पहचानी जाएगी अम्मा कैंटीन

ग्रेटर चेन्नई कॉरपोरेशन द्वारा पूरी तरह से वित्त पोषित, अम्मा कैंटीन 3 रुपए में चावल और दाल की थाली, एक रुपए में इडली और 3 रुपए में चपाती और दाल उपलब्ध करा रही है।

चेन्नई। नई डीएमके एमके स्टालिन की सरकार पूर्व मुख्यमंत्री जे जयललिता द्वारा स्थापित अम्मा कैंटीन का नाम बदलकर अन्ना कैंटीन रखने वाली है। जयललिता द्वारा 2013 में मुख्यमंत्री रहते हुए शुरू की गई अम्मा कैंटीन की संख्या वर्तमान में बढ़कर 407 हो गई है। ग्रेटर चेन्नई कॉरपोरेशन द्वारा पूरी तरह से वित्त पोषित, अम्मा कैंटीन 3 रुपए में चावल और दाल की थाली, एक रुपए में इडली और 3 रुपए में चपाती और दाल उपलब्ध करा रही है। मंगलवार को, डीएमके उम्मीदवारों ने मोगापीयर में एक कैंटीन में तोडफ़ोड़ की थी और डीएमके और एआईएडीएमके समर्थकों के बीच तनाव पैदा हो गया था।

यह भी पढ़ेंः- ममता बनर्जी ने तीसरी बार ली मुख्यमंत्री पद की शपथ,जानिए बंगाल हिंसा पर क्या कहा

500 कैंटीन खोलने का वादा
नई सरकार पार्टी के संस्थापक और पूर्व मुख्यमंत्री सी एन अन्नादुराई अम्मा कैंटीन गरीबों और जरूरतमंदों को सांत्वना प्रदान कर रही थीं । उन्हें चेन्नई निगम में एआईएडीएमके सरकार की सबसे अच्छी सामाजिक पहल में से एक माना जाता था। डीएमके ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में जरूरतमंदों और वंचितों को रियायती दरों पर भोजन उपलब्ध कराने के लिए राज्य भर में कलईग्नार के नाम से 500 कैंटीन खोलने का वादा किया था। डीएमके नेता दुरिमुरुगन ने मीडिया में बात करते हुए कहा कि डीएमके ने राज्य भर में कम दरों पर गुणवत्तापूर्ण भोजन प्रदान करने के लिए कैंटीन खोलने का वादा किया है और हम इसे सरकार के कार्यालय के तुरंत बाद पहले उपाय के रूप में लागू करेंगे।

यह भी पढ़ेंः- Maratha reservation: सरकारी नौकरियों में मराठी भाषी लोगों को आरक्षण पर सुप्रीम कोर्ट का आज आ सकता है अहम फैसला

फ्री में पीने का पानी
डीएमके सरकार चेन्नई और सभी मेट्रो शहरों में मुफ्त पीने के पानी के खोखे खोलने के लिए तैयार है। यह पूरी तरह से संबंधित नगर निगमों द्वारा समर्थित होगा जो बदले में सीएसआर प्लेटफार्मों के माध्यम से धन इक_ा कर सकते हैं। बहरहाल, तमिलनाडु में राजनीतिक दलों का उपयोग कई कल्याणकारी योजनाओं और लोगों को मुफ्त में देने के लिए किया जाता है और उस समय सत्ता में आने के बाद राजनीतिक दल के अनुसार नाम बदल दिए जाते हैं।

Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned