Corona: लोगों की मौजूदगी में ही कर्मचारियों ने घर को कर दिया सील, जानें फिर क्या हुआ

  • देशभर में लगातार बढ़ रहा है Coronavirus का खतरा
  • सामने आई Bengaluru Mahanagara Palika के कर्मचारियों की बड़ी लापरवाही
  • घर में मौजूद थे लोग, फिर दो फ्लैट कर दिए Seal, बाद में अधिकारियों तक मामला पहुंचा तो मांगी माफी

नई दिल्ली। देशभर में कोरोना वायरस ( coronavirus ) का खतरा लगातार बढ़ रहा है। पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के नए मामलों ने अब तक के सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। देश में 50 हजार नए कोरोना संक्रमित केस सामने आए हैं। इसी के साथ देश में कोरोना संक्रमित की संख्या अब 13 लाख के करीब पहुंच रही है। इस बीच देश के दक्षिण राज्य कर्नाटक ( Karnataka ) से नगरपालिका कर्मचारियों की बड़ी लापरवाही सामने आई है।

दरअसल कोरोना काल के बीच जहां हर कोई इस महामारी से जूझ रहा है ऐसे में सरकारी कर्मचारियों की लापहवारी की खामियाजा लोगों के लिए एक और परेशानी खड़ी कर रहा है। बेंलगूरु में महानगर पालिका (Bengaluru Mahanagara Palike) के कर्मचारियों ने गलती से दो ऐसे घरों को सील कर दिया जिसमें अंदर लोग रह रहे थे।

कोरोना संकट को लेकर सरकार हुई सख्त, मास्क ना पहनने पर देना होगा 1 लाख रुपए जुर्माना, दो साल की सजा को लेकर पास हुआ अध्यादेश

बच्चों की ऑनलाइन पढ़ाई के लिए पिता ने उठाया बड़ा कदम, अब अभिनेता सोनू सूद ने बढ़ाया अपना हाथ

बेंगलूरु महानगर पालिका के कर्मचारियों की ओर से बड़ी लापरवाही का मामला सामने आया है। बीबीएमपी के कर्मचारियों ने शुक्रवार को दोमलूर के पास दो फ्लैट के दरवाजे सील कर दिए थे, जिसमें से एक फ्लैट के अंदर एक महिला और उसके दो बच्चे थे, जबकि दूसरे फ्लैट में एक बुजुर्ग दंपति मौजूद थे।

इस बात की खबर जैसे की नगर निगम के अधिकारियों को लगी वैसे ही वह हरकत में आ गए और उन्होंने सीलिंग को दोबारा खुलवा दिया।

ये है पूरा मामला
दरअसल बेंगलूरु महानगर पालिका की ओर से दोमलूर में कोरोना संक्रमित मरीज मिलने के बाद बिल्डिंग को सील किया जा रहा था। बिल्डिंग को सील करने के दौरा जब बेंगलूरु महानगर पालिका के कर्मचारी पहुंचे, तो उन्होंने दो फ्लैट के दरवाजे को ही बाहर से सील कर दिया, जबकि घर के अंदर लोग मौजूद थे।

मामला बढ़ता देख बीबीएमसी आयुक्त एन मंजूनाथ प्रसाद को खुद इस पूरे मामले पर खेद जताना पड़ा।
बीबीएमपी आयुक्त एन मंजूनाथ प्रसाद ने ट्वीट किया कि उन्होंने सुनिश्चित किया है कि बैरिकेड्स को तुरंत हटा लिया गया। वहीं स्थानीय कर्मचारियों ने अति उत्साह में किए गए अपने कार्य पर माफी मांग ली है।

आपको बात दें कि कर्नाटक में कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है।वहीं बेंगलूरु में भी रोजाना बड़ी संख्या कोरोना के नए केस सामने आ रहे हैं। ऐसे में सरकार इससे निपटने के लिए कड़े कदम उठा रही है। प्रदेश में अब तक 75 हजार से ज्यादा कोरोना संक्रमितों की संख्या पहुंच चुकी है।

coronavirus
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned