Big decision : एक बार फिर दिल्ली में कोरोना टेस्टिंग करेंगे दोगुनी - सीएम केजरीवाल

  • Delhi Government ने 7 दिन में 40000 टेस्ट करने का आदेश दिया।
  • मरीजों को ठीक होने के बाद भी कुछ दिनों के लिए Oximeter घर पर रखने के लिए दिया जाएगा।
  • दिल्ली में 14 जुलाई के बाद कोरोना वायरस संक्रमण से नहीं हुई किसी की मौत।

दिल्ली। देश की राजधानी में एक महीने बाद अचानक कोरोना वायरस ( Coronavirus Pandemic ) संक्रमित मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा होने के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ( Delhi CM Arvind Kejriwal ) ने इस मुद्दे पर बुघवार को आपात बैठक ( Emergency meeting ) कीं। इसमें कोरोना को काबू करने के लिए एक बार फिर केजरीवाल सरकार ने बड़ा फैसला ( big decision ) लिया। सीएम केजीरवाल ने स्वास्थ्य मंत्री व वरिष्ठ अधिकारियों के सथ विचार-विमर्श के बाद दिल्ली कोरोना टेस्टिंग ( Coronavirus Testing ) दोगुनी करने का निर्णय लिया है।

आपात बैठक करने के बाद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हम पूरी तरीके से तैयार हैं। हमारे पास बेड और एंबुलेंस की पूरी व्यवस्था है। हमारे पास 14,130 बेड हैं। साढ़े 10 हजार खाली हैं। एंबुलेंस के लिए एक भी रिक्वेस्ट मना नहीं की जाती है।

7 दिन में होंगे 40000 टेस्ट

पिछले कुछ दिनों में दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले थोड़े ज्यादा बढ़े हैं। इस बात को ध्यान में रखते हुए मैंने आज आदेश दिया है। उन्होंने कहा कि दिल्ली में अब दोगुने कोरोना टेस्ट किए जाएंगे। सरकार ने एक हफ्ते में 40000 टेस्ट करने का आदेश दिया है।

Gujrat : जिस विधायक पर हैं हत्या-दंगे के 15 आरोप, अब वही संभालेंगे डीपीसीए की जिम्मेदारी

ठीक होने के बाद भी दिए जाएंगे Oximeter

ने कोरोना के संक्रमित मरीजों के ठीक होने के बाद भी दिक्कतों को लेकर कहा कि कई बार लोग कोरोना से ठीक हो जाते हैं, लेकिन कुछ समस्याएं बनी रहती हैं। ऐसे लोगों के कोरोना के लक्षण फिर से दिखाई देने लगते हैं। ऐसे लोगों को कुछ दिन के लिए ऑक्सीमीटर घर पर रखने के लिए दिया जाएगा। इसके साथ ऑक्सीजन कंसंट्रेटर भी दिया जाएगा। ताकि उन्हें अस्पताल जाने की जरूरत न पड़े और घर पर ही ऑक्सीजन लेवल नापा जा सके।

Supreme Court ने शरजील इमाम की याचिका पर सुनवाई 14 दिनों के टाली, दंगे भड़काने का आरोप है

न करें कोरोना को अनदेखा

सीएम केजरीवाल ने कहा कि राजधानी में 14 जुलाई के बाद किसी की भी मौत नहीं हुई है। दिल्लीवासियों को कोरोना के प्रति सतर्क रहने की सलाह देते हुए सीएम केजरीवाल ने कहा कि समुचित इंतजाम से दिल्ली की जनता में कॉन्फिडेंस आया है। लेकिन उस कॉन्फिडेंस की वजह से हम कोरोना को अनदेखा न करें। सभी लोग मास्क पहनकर निकलें। सोशल डिस्टेंस का पालन करें। यह संकल्प लें कि इसे बढ़ने नहीं देना है।

बता दें कि दिल्ली में 40 दिनों के बाद 23 अगस्त के बाद से कोरोना वायरस ( COVID-19 Update ) के नए मामलों में अचानक उछाल आया है। 25 अगस्त को 1500 से ज्यादा नए मामले सामने आए। इस बात को ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ( CM Arvind Kejriwal ) ने दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री और स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारियों के साथ आपात समीक्षा बैठक की। इसके बाद सीएम केजरीवाल ने कोरोना टेस्टिंग दोगुना करने की घोषणा की है।

Coronavirus Pandemic
Show More
Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned