Bird Flu: केरल में आपदा घोषित, सात राज्यों में लाखों पक्षियों की मौत से मचा हड़कंप

  • Corona संकट के बीच Bird Flu ने बढ़ाई कई राज्यों की चिंता
  • सात राज्यों में जारी किया गया हाई अलर्ट
  • केरल में आपदा की घोषणा

नई दिल्ली। कोरोना वायरस ( Coronavirus ) महामारी के बीच देश में एक और खतरा तेजी से बढ़ रहा है। बर्ड फ्लू ( Bird Flu ) ने देश के सात राज्यों में अपने पैर पसार लिए हैं। वहीं केरल में मुख्यमंत्री पी विजयन ने आपदा घोषित कर दी है। आपको बता दें कि चार राज्यों में बर्ड फ्लू संक्रमण की पुष्टि हो गई है। जबकि अन्य तीन राज्यों ने अपने यहां अलर्ट जारी कर दिया है।

इनमें जम्मू-कश्मीर और तमिलनाडु प्रमुख रूप से शामिल हैं। हिमाचल, एमपी, राजस्थान और केरल में बर्ड फ्लू तेजी से फैल रहा है। इसके अलावा कर्नाटक, गुजरात और हरियाणा में भी पक्षियों की मौत से लोगों में दहशत का माहौल है।

रेल यात्रियों के लिए आई अच्छी खबर, रेलवे ने कोरोना में बंद की गई कई ट्रेनों का शुरू किया संचालन, देखें पूरी लिस्ट

ike.jpg

हरियाणा में 4 लाख पक्षियों की मौत
हरियाणा में बर्ड फ्लू का जबरदस्त कहर देखने को मिल रहा है। यहां 10 दिन में चार लाख से ज्यादा पक्षियों की मौत हो चुकी है। मंगलवार को अलर्ट कर नमूनों को जांच के लिये भेज दिया गया है। 30 हजार से ज्यादा मुर्गियों और बत्तखों को मारने का फैसला किया गया है।

केरल में आपदा घोषित
केरल में बर्ड फ्लू के एच5एन8 स्वरूप (स्ट्रेन) को नियंत्रित करने के लिए मुर्गे-मुर्गियों और बत्तखों को मंगलवार को मारना शुरू कर दिया गया। यहां सीएम ने आपदा की भी घोषणा कर दी है।

यूपी में भी अलर्ट
उत्तर प्रदेश में कोरोना संकट के बीच बढ़ रहे बर्ड फ्लू से दहशत का माहौल है। यह वजह है कि सीएम योगी आदित्यनाथ ने खतरे के चलते स्वास्थ्य विभाग और पशुपालन विभाग को राज्य में पूरी तरह सतर्क रहने के निर्देश दिए हैं। इसी संदर्भ में बर्ड फ्लू को लेकर निदेशक पशुपालन निर्देश जारी कर दिए हैं।

राजस्थानः अधिकारियों के मुताबिक कोटा और बांरा जिलों के पक्षियों के नमूनों के जांच परिणामों में भी एवियन इंफ्लूएंजा पाया गया है। बारां में 100 से ज्यादा पक्षियों की रहस्यमयी मौत के बाद वन विभाग ने हेल्पलाइन नंबर जारी कर दिया है।

कोरोना संकट के बीच देश में इस दिन दी जाएगी वैक्सीन, एम्स डायरेक्टर ने बताया किन लोगों को नहीं लगेगा टीका

मध्य प्रदेशः इंदौर के बाद मंदसौर में भी एक हफ्ते में ढाई सौ कौवों की मौत हो गई है। शिवराज सरकार ने अलर्ट जारी करते हुए सैंपलों को भोपाल भेजने का निर्देश दिया है। यहां पर बर्ड फ्लू की पुष्टि हुई है और इसके बाद प्रशासन सचेत हो गया है।

तमिलनाडुःपड़ोसी राज्य केरल में बर्ड फ्लू का प्रकोप होने के बाद मंगलवार को अंतरराज्यीय सीमाओं पर निगरानी बढ़ा दी है। इससे मनुष्यों के प्रभावित होने के संभावित मामलों से निपटने के लिए आकस्मिक योजना की घोषणा की है। स्वास्थ्य सचिव जे राधाकृष्णन ने कहा, 'एवियन इन्फ्लुएंजा तेजी से फैलता है और मनुष्यों के भी इससे प्रभावित होने की आशंका होती है।

कर्नाटकः येदियुरप्पा सरकार ने महाराष्ट्र से लगने वाली सीमा पर स्थित जिलों में सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं।

पंजाबः तरणतारण में मौजूद हरीके पट्टन बर्ड सेंचुरी में भी वन विभाग ने सख्त निगरानी शुरू की है। यहां हर साल एक लाख से ज्यादा प्रवासी पक्षी आते हैं।

हिमाचल प्रदेशः बिलासपुर में मौजूद गोविंद सागर और कोल डैम में भी प्रवासी पक्षियों पर नजर रखी जा रही है। बर्ड फ्लू से निपटने के लिए इंतजाम किए जा रहे हैं। कांगड़ा जिले के पोंग झील में अब तक 2300 प्रवासी पक्षियों की मौत हो चुकी है। बर्ड फ्लू की पुष्टि के बाद मृत पक्षियों को जमीन में दफन किया जा रहा है।

उत्तराखंडः हिमाचल में बढ़ रहे खतरे के बीच उत्तराखंड में भी अलर्ट जारी कर दिया गया है। मुख्य वन्यजीव सरंक्षक जेएस सुहाग के मुताबिक प्रदेश में अब तक किसी पक्षी की मौत का कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है

लेकिन प्रदेश के सभी वन प्रभागों को बर्ड फ्लू को लेकर अलर्ट रहने और सतर्कता बरतने के लिए कहा गया है।
अधिकारियों को आसन रिजर्व, झिलमिल झील, नानक सागर बांध और अन्य जगहों पर सतर्कता बरतने को कहा गया है।

धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned