नीतीश के खिलाफ लगातार बयानबाजी कर रहे थे यह भाजपा नेता, पार्टी ने दिखा दिया बाहर का रास्ता

एमएलसी टुन्ना पांडे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के खिलाफ लगातार बयानबाजी करते आ रहे थे। उनका यह भी कहना था कि नीतीश कुमार भले ही बिहार के मुख्यमंत्री हैं, लेकिन वह उनके नेता नहीं हो सकते। टुन्ना पांडे के इस रुख को लेकर जनता दल यूनाइटेड के तमाम नेता एकजुट हो गए थे और भाजपा पर एमएलसी के खिलाफ सख्त कार्रवाई के लिए दबाव बना रहे थे।

 

नई दिल्ली।

भाजपा ने बिहार में अपने एक वरिष्ठ नेता को निलंबित कर दिया है। यह नेता बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के खिलाफ लगातार बयानबाजी कर रहे थे। बताया जा रहा है कि इस नेता पर कार्रवाई के लिए जनता दल यूनाइटेड की ओर से भाजपा पर दबाव बनाया जा रहा था।

बिहार में भाजपा नेता और विधानपार्षद यानी एमएलसी टुन्ना पांडे को पार्टी ने निलंबित कर दिया है। एमएलसी टुन्ना पांडे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के खिलाफ लगातार बयानबाजी करते आ रहे थे। उनका यह भी कहना था कि नीतीश कुमार भले ही बिहार के मुख्यमंत्री हैं, लेकिन वह उनके नेता नहीं हो सकते। टुन्ना पांडे के इस रुख को लेकर जनता दल यूनाइटेड के तमाम नेता एकजुट हो गए थे और भाजपा पर एमएलसी के खिलाफ सख्त कार्रवाई के लिए दबाव बना रहे थे। हाल ही में जनता दल यूनाइटेड के सीवान के जिलाध्यक्ष ने टुन्ना पांडे को भाजपा से बाहर निकालने की मांग की थी।

यह भी पढ़ें:- बंगाल में ममता-मोदी फिर आमने-सामने, वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट पर प्रधानमंत्री की जगह लगी मुख्यमंत्री की फोटो

टुन्ना पांडे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर लगातार हमलावर थे। उनका कहना था कि नीतीश कुमार परिस्थिति के कारण मुख्यमंत्री हैं और राष्ट्रीय जनता दल यानी राजद को पिछले विधानसभा चुनाव में उन्होंने सत्ता के बल पर हराया गया। हालांकि, टुन्ना पांडे के इस बयान को भाजपा ने भी आपत्तिजनक माना था और नोटिस थमाते हुए उनसे इस पर जवाब मांग था।

दरअसल, टुन्ना पांडे विधानपरिषद के स्थानीय निकाय कोटे से सदस्य है। इसका चुनाव इस साल ही होना है। सूत्रों की मानें तो टुन्ना पांडे चुनाव से पहले भाजपा छोड़ राष्ट्रीय जनता दल में शामिल होने की योजना बना रहे थे। इसी वजह से वह लगातार नीतीश कुमार के खिलाफ बयानबाजी कर रहे थे। यही नहीं, टुन्ना पांडे के एक भाई बच्चा पांडे राष्ट्रीय जनता दल से विधायक हैं। बच्चा पांडे जनता दल यूनाइटेड के उम्मीदवार को हराकर बड़हरिया से राष्ट्रीय जनता दल के टिकट पर चुनाव जीते हैं।

यह भी पढ़ें:- केंद्र सरकार ने किसी शहर को अनलॉक करने के लिए बनाए ये नियम, जानिए क्या करना होगा और क्या नहीं

गत वर्ष विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के ठीक बाद टुन्ना पांडे ने नीतीश कुमार और भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी पर निशाना साधते हुए कहा था कि दोनों को अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए। टुन्ना पांडे ने हाल ही में शहाबुद्दीन के बेटे ओसामा शहाब से सीवान में मुलाकात की थी। उन्होंने शहाबुद्दीन से तेजस्वी यादव द्वारा मुलाकात नहीं करने पर तेजस्वी का बचाव भी किया था।

Ashutosh Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned