Delhi Government का Private Hospitals पर शिकंजा, अब Corona के मरीजों के इलाज को नहीं कर सकेंगे इनकार

  • Delhi में फैलते Corona virus के संक्रमण के बीच Delhi Government ने Private Hospitals पर शिंकजा कस दिया है।
  • Delhi में अब प्राइवेट अस्पताल (Private Hospitals) कोरोना वायरस (Coronavirus) के मरीजों के इलाज से मना नहीं कर सकेंगे

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी में फैलते कोरोना वायरस ( coronavirus in Delhi ) के संक्रमण के बीच दिल्ली सरकार ( Delhi Goverment ) ने प्राइवेट हॉस्पिटलों ( Private Hospitals ) पर शिंकजा कस दिया है।

दिल्ली में अब प्राइवेट अस्पताल (Private Hospitals) कोरोना वायरस (Coronavirus) के मरीजों के इलाज से मना नहीं कर सकेंगे।

इसके साथ ही अब प्राइवेट अस्पतालों की मनमानी और बेड की काला बाजारी ( Black Marketing of Beds ) रोकने के लिए सरकार उनमें अपने प्रतिनिधि बैठाएगी।

ये दिल्ली सरकार के ये प्रतिनिधि अस्पतालों के रिसेप्शन पर बैठकर न केवल प्रबंधन पर नजर रखेंगे बल्कि मरीजों ( Corona patients ) को बेड दिलाना भी सुनिश्चित करेंगे।

Unlock 1.0: हरियाणा सरकार का फैसला- Gurugram और Faridabad में अभी बंद रहेंगे धार्मिक स्‍थल और शॉपिंग मॉल

शनिवार को प्रेस को संबोधित कर रहे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind kejriwal) ने कहा कि अब दिल्ली में प्राइवेट हॉस्पिटलों में कोरोना पर ‘काला बाजारी’ नहीं चलने दी जाएगी।

गौरतलब है कि दिल्ली सरकार की ओर से शनिवार को एक आदेश जारी किया गया हैं। इस आदेश में दिल्ली के सभी सरकारी,प्राइवेट और सैन्य अस्पतालों का जिक्र किया गया है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि प्राइवेट हॉस्पिटलों की मनमानी चल रही है। कुछ हॉस्पिटल पहले मरीजों को बेड देने से इनकार कर देते हैं और फिर बेड के बदले मोटी रकम वसूलते हैं।

India-China Dispute: सैन्य कमांडरों की बातचीत में भारत की दो टूक- अप्रैल वाला स्टेटस कायम करे Chinese Army

WHO का अलर्ट: भारत में Corona Explosion का खतरा कम, लेकिन जोखिम हमेशा

सीएम केजरीवाल ने साफ किया कि अब अगर ऐसा हुआ तो प्राइवेट अस्पतालों पर सीधी कार्रवाई होगी। उन्होंने यह भी कहा कि अब सभी हॉस्पिटलों को कोरोना वायरस के मरीजों के लिए बेड आरक्षित करने होंगे।

अगर ऐसा नहीं हुआ तो उन पर कार्रवाई की जाएगी। 'केजरीवाल ने यह भी कहा कि ‘दिल्ली कोरोना’ एप लांच होने से पहले सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में लगभग 2800 मरीज थे, लेकिन अब यह संख्या घटकर 1100 रह गई है।

 

कोरोना वायरस समाचार चीन में कोरोना वायरस कोरोना वायरस coronavirus
Show More
Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned