एस जयशंकर ने जयराम के सवालों का दिया जवाब, कहा-विदेश मंत्रालय कभी नहीं सोता

यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ता फिलीपींस एंबेसी के आग्रह के बाद ऑक्सिजन सिलेंडर लेकर मदद के लिए पहुंचे। इस पर जयराम ने विदेश मंत्रालय पर कसा तंज

नई दिल्ली। कोरोना महामारी (Coronavirus) को लेकर दो बड़े नेताओं के बीच ट्विटर पर बहस छिड़ गई है। एनडीए सरकार में मौजूद विदेश मंत्री एस. जयशंकर (S. Jaishankar) और यूपीए सरकार में पर्यावरण मंत्री रहे जयराम रमेश (Jairam Ramesh) की तीखी बहस देखने को मिली है। गौरतलब है कि कोरोना महामारी को लेकर यूथ कांग्रेस के कार्यकर्ता फिलीपींस एंबेसी के आग्रह के बाद ऑक्सिजन सिलेंडर लेकर मदद के लिए पहुंचे।

Read More: कोरोना से जंग के लिए दुनियाभर से मिल रही मदद, अमरीका की तीसरी खेप भारत पहुंची

भारतीय युवा कांग्रेस से मदद का आभार

इसे लेकर जयराम रमेश ने सरकार पर तंज कसा है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि कोरोना काल में भारतीय युवा कांग्रेस की तरफ से मदद के लिए वे आभार व्यक्त करते हैं। मगर एक भारतीय नागरिक के रूप में वे यह जानकर स्तब्ध हैं कि विपक्षी पार्टी की यूथ विंग विदेशी एंबेसीज की तरफ से एसओएस कॉल अटेंड कर रही हैं। विदेश मंत्री एस.जयशंकर ने कहा कि क्या विदेश मामलों का मंत्रालय सो रहा है?

Read More: देश भर में कोरोना संक्रमण बेकाबू, 24 घंटे में तीन हजार से अधिक मौतें

इस तरह ऑक्सिजन सिलेंडर बांटना ठीक नहीं: जयशंकर

इस पर विदेश मंत्री एस जयशंकर ने जवाब दिया कि विदेश मामलों के मंत्रालय ने फिलीपींस एबेंसी में जांच करवाई है। यहां पर कोरोना वायरस का कोई मामला सामने नहीं आया है। यहां पर बेवजह सप्लाई हो रही है। उन्होंने कहा कि आपको पता है कि सस्ती लोकप्रियता के लिए यह काम कौन कर रहा है। जब जरूरतमंद लोग सिलेंडर के लिए मुश्किलों का सामना कर रहे हैं। ऐसे में इस तरह से ऑक्सिजन सिलेंडर बांटना बिल्कल भी ठीक नहीं है। विदेश मंत्री जयशंकर के अनुसार जयरामजी, विदेश मंत्रालय कभी नहीं सोता है। हमारे लोग दुनियाभर में हैं। हम जानते हैं कि कौन क्या करता है।

न्यूजीलैंड दूतावास ने ट्वीट हटाया

इसके पहले न्यूजीलैंड की तरफ से यूथ कांग्रेस से ट्वीट कर मदद मांगने का प्रयास किया गया था। जिसके बाद कांग्रेस न्यूजीलैंड दूतावास में भी ऑक्सिजन सिलेंडर लेकर पहुंच गए। हालांकि,बाद में न्यूजीलैंड दूतावास की तरफ से मदद वाला ट्वीट हटा लिया गया था।

Coronavirus in india
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned