Delhi-NCR में कोरोना का कहर जारी, संक्रमितों की संख्या 1 लाख के पार

  • Coronavirus Pandemic से एक दिन में 62 लोगों की मौत हुई।
  • Delhi में कोरोना को 58,348 लोग मात दे चुके हैं।

 

नई दिल्ली। देशभर में कोरोना वायरस महामारी ( Coronavirus Pandemic ) का कहर जारी है। कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के मामले दिल्ली-एनसीआर ( Delhi-NCR ) में आंकड़ा एक लाख के पार पहुंच गया है। दिल्ली सरकार ( Delhi Government ) के लिए कोरोना से पार पाना बड़ी चुनौती है। राहत की बात यह है कि यहां ठीक होने वाले लोगों की संख्या के काफी सुधार हुआ है।

दिल्ली में कोरोना वायरस का संक्रमण ( Coronavirus infection ) अब भी तेज रफ्तार से ही फैल रहा है। मंगलवार को दिल्‍ली में कोरोना संक्रमण के 2199 नए मामले सामने आए। एक दिन में इस वायरस की चपेट में आने से 62 लोगों की मौत हो चुकी है।

प्रतिबंधों की काट में जुटा चीन, सिंगापुर और हांगकांग के जरिए कर सकता है भारत में निवेश

अब अकेले दिल्ली में कोरोना से संक्रमितों की संख्‍या बढ़कर 87,360 हो गई है। जबकि कोरोना वायरस की इस महामारी की वजह से अब तक 2742 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। वहीं दिल्ली एनसीआर में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की संख्या एक लाख से ज्यादा हो गई है।

दिल्ली में 1 दिन में ठीक हुए 2113 मरीज

दिल्ली में मंगलवार को कोरोना वायरस के 2113 मरीज ठीक हुए हैं। वहीं अब तक इस बीमारी को 58,348 लोग मात दे चुके हैं। दिल्ली में अब भी कोरोना वायरस के 26,270 एक्टिव केस है। दिल्ली सरकार कोरोना के मरीजों को बेहतर इलाज मुहैया कराने का प्रयास कर रही है। जिसमें केंद्र सरकार की ओर से भी मदद की जा रही है।

अफसोस : पुणे में बेटी पैदा होने पर पिता ने अस्पताल में मचाया हंगामा, पत्नी को दी इस बात की धमकी

कंटेनमेंट जोन में स्क्रीनिंग पर जोर

गृह मंत्रालय ने दिल्ली में कोरोना वायरस को देखते हुए घर-घर की जाने वाली स्क्रीनिंग पर रोक लगा दी है। गृह मंत्रालय ( Home Ministry ) ने अपनी समीक्षा के बाद पाया कि पहले कंटेनमेंट जोन ( Conainment Zone ) के सभी घरों की स्क्रीनिंग को प्राथमिकता दी जाए। गृह मंत्रालय के निर्देश के बाद ही दिल्ली सरकार ने दिल्ली के सभी 35 लाख से ज्यादा घरों की 6 जुलाई तक स्क्रीनिंग के आदेश दिए थे।

5-टी प्लान पर काम रही है Kejriwal Government

दिल्ली सरकार कोरोना से निपटने के लिए 5-T प्लान पर काम कर रही है। इसमें टेस्टिंग, ट्रेसिंग, ट्रीटमेंट, टीमवर्क और ट्रैकिंग के जरिए कोरोना को हराने की योजना बनाई गई है। हालांकि इसके बाद भी करीब ढाई महीने के बाद दिल्ली में संक्रमण के मामले मुंबई से अधिक हो गए हैं।

बता दें कि दिल्ली में सबसे पहले कोरोना संक्रमित मरीज 2 मार्च को मिला था। दिल्ली में कोरोना वायरस से पहली मौत 12 मार्च को एक महिला की हुई थी। दिल्ली में हर 15 दिन पर कोरोना के केस पहले से दोगुने हो रहे हैं। दिल्ली में टेस्टिंग रेट ( Testing Rate ) हर 10 लाख लोगों में करीब 22,142 है। दिल्ली में 65 फीसदी कोरोना पीड़ित मरीज ठीक हो चुके हैं।

Coronavirus Pandemic
Show More
Dhirendra Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned