Coronavirus: केंद्र सरकार की एडवाइजरी, मंत्रालयों और विभागों में बंद हो बायोमेट्रिक अटेंडेंस

  • देश में जानलेवा कोरोना वायरस ( Coronavirus ) को लेकर हड़कंप का माहौल
  • भारत में कोरोना ( Coronavirus ) संक्रमण के अब तक 31 मामले सामने आए
  • केंद्र सरकार ( Modi Goverment ) ने सभी राज्यों को चौंकसी बरतने के निर्देश दिए

नई दिल्ली। देश में जानलेवा कोरोना वायरस ( Coronavirus ) को लेकर हड़कंप का माहौल है। भारत में कोरोना ( Coronavirus in India ) संक्रमण के अब तक 31 मामले सामने आए हैं, जबकि कई लोगों को निगरानी में रखा गया है।

सरकार कोरोना वायरस ( Coronavirus News ) से निपटने के इंतजामों में जुटी है। केंद्र सरकार ( Central Government ) ने सभी राज्यों को चौंकसी बरतने के निर्देश दिए हैं।

यहां तक कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( PM Narendra Modi ) खुद कोरोना वायरस के मामलों की मॉनिटरिंग कर रहे हैं।

कोरोना से लड़ने के इन्हीं प्रयासों के चलते केंद्र सरकार ने भी अपने सभी मंत्रालयों और विभागों को एडवाइजरी जारी की है।

दिल्ली में तेज हवाओं के साथ बारिश, देश के इन राज्यों में भी बदला मौसम का मिजाज

केंद्र सरकार की ओर से जारी एडवाइजरी में सभी मंत्रालयों / विभागों से अनुरोध किया है किया गया है कि अपने यहां 31 मार्च, 2020 तक आधार-आधारित बायोमेट्रिक ( Biometric attendance ) उपस्थिति प्रणाली पर रोक लगाएं।

सरकार ने बायोमेट्रिक उपस्थिति की जगह रजिस्टर का इस्तेमाल करने का सुझाव दिया है।

आपको बता दें कि इससे पहले दिल्ली में कोरोना वायरस ( Coronavirus ) की खतरे के चलते आप सरकार ने फिलहाल बायोमेट्रिक उपस्थिति ( Biometric attendance ) पर रोक लगा दी थी।

Coronavirus: हर छींक का मतलब कोरोना नहीं, कैसे करें पहचान?

b_2.png

कोरोना के प्रकोप से सहमे आरजेडी प्रमुख लालू यादव, रिम्स हॉस्पिटल प्रबंधन पर भड़के

दिल्ली सरकार ने यह फैसला राजधानी में कोरोना वायरस ( Coronavirus in Delhi ) के संभावित खतरे को ध्यान में रखते हुए लिया। सरकार की ओर से जारी पत्र में कहा गया है कि अस्थायी रूप से यह रोक अगले आदेश तक जारी रहेगी।

दिल्ली सरकार ( Delhi Goverment ) ने अपने आदेश में सभी सरकारी कार्यालयों के विभागाध्यक्षों को पत्र लिख बायोमेट्रिक अटेंडेंस सिस्टम को बंद करने को कहा है।

दिल्ली सरकार ने इसके लिए प्रमुख सचिव, विभागों के सचिवों, नगर निगमों और स्वायत्त निकायों को पत्र लिखा है।

Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned