Covid-19: दूसरी लहर हुई धीमी, पिछले चार दिनों में तीसरी बार 1000 से कम मरीजों की मृत्यु

गुरुवार को देश में कोरोना के 51 हजार 256 नए मरीज मिले जबकि कोरोना संक्रमण के कारण 962 मरीजों की मृत्यु हुई।

नई दिल्ली। देश में कोरोना की दूसरी लहर धीरे-धीरे खत्म होने की ओर बढ़ रही है। गुरुवार को देश में कोरोना के 51 हजार 256 नए मरीज मिले जबकि कोरोना संक्रमण के कारण 962 मरीजों की मृत्यु हुई। पिछले चार दिनों में ऐसा तीसरी बार हुआ है जबकि मौत का आंकड़ा एक हजार से कम रहा। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार गुरूवार को सबसे ज्यादा मौतें तमिलनाडु (155), कर्नाटक (138) तथा केरल (136) में दर्ज की गई हैं। जबकि बुधवार को पूरे देश में 1300 से अधिक लोगों की कोरोना के कारण मृत्यु हो गई थी।

यह भी पढ़ें : बच्चों को एंटीबायोटिक देने से पहले ध्यान दें

इसी बीच देश में बढ़ते डेल्टा प्लस वेरिएंट के मामलों में केन्द्र सरकार तथा राज्य सरकारों ने अपनी तैयारी को तेज कर दिया है। गोवा सरकार ने प्रशासन को अलर्ट मोड पर रहने के लिए कहा है। उल्लेखनीय है कि गोवा में डेल्टा वेरिएंट का एक केस मिला था। पहले बताया गया था कि पूरे देश में डेल्टा प्लस वेरिएंट के अब तक लगभग 40 केस दर्ज किए गए हैं। न केवल भारत वरन विश्व के कई अन्य देशों में भी इस वेरिएंट के मरीज मिल रहे हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने इस विषय पर चिंता जाहिर करते हुए सभी देशों से सावधान रहने के लिए कहा था। आपको बता दें कि 16 जून तक 11 देशों में संक्रमण के 190 से अधिक केस सामने आ चुके थे।

यह भी पढ़ें : इंडोनेशिया: मुस्लिम धर्मगुरू ने छिपाई कोरोना संक्रमण की रिपोर्ट, चार साल की कैद

डेल्टा प्लस वेरिएंट पर सरकारों की चिंता को देखते हुए इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी ने कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए वैक्सीन्स पर स्टडी करने का निर्णय किया है। संस्थान अपने अध्ययन में यह जानने का प्रयास करेंगे कि फिलहाल उपलब्ध वैक्सीन्स डेल्टा प्लस वेरिएंट पर कितनी प्रभावी हैं और क्या यह इस वेरिएंट की रोकथाम के लिए पर्याप्त रहेंगी।

सुनील शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned