3 घंटे तक बाजार में बेहोश पड़ रहा बुजुर्ग, corona खौफ के कारण नहीं मिली मदद, हुई मौत

  • देश में तेजी से बढ़ रहा है coronavirus का खौफ
  • Delhi में COVID-19 के खौफ से बेहोश बुजुर्ग को नहीं मिली मदद
  • हॉस्पिटल पहुंचने के बाद मृत घोषित किया गया

नई दिल्ली। पूरी दुनिया के साथ-साथ भारत ( coronavirus in india ) में भी कोरोना वायरस का कहर जारी है। आलम ये है कि लॉकडाउन ( Lockdown ) के बावजूद देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। वहीं, इस महामारी को लेकर लोगों में खौफ भी बढ़ता जा रहा है। खौफ का अंदाजा आप इसी से लगा सकते हैं कि देश की राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली ( Coronavirus in delhi ) के एक बाजार में एक बुजुर्ग ( Old Man ) तीन घंटे तक सड़क पर बेहोश पड़ रहा है, लेकिन उसकी किसी ने मदद नहीं की। परिणाम ये हुआ कि उसकी मौत हो गई।

तीन घंटे तक नहीं मिली मदद

जानकारी के मुताबिक, दक्षिण दिल्ली ( South Delhi ) के यूसूफ सराय बाजार ( yusuf sarai market ) में बुधवार को 65 वर्षीय एक बुजुर्ग अचानक बेहोश कर रोड पर गिर गया। लोग बुजुर्ग को तड़पते देखते रहे, लेकिन किसी ने उसकी मदद नहीं की। हालांकि, तीन घंटे बाद पुलिस ने वृद्ध को हॉस्पिटल पहुंचा, लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका। बताया जा रहा है कि समय पर अगर बुजुर्ग को हॉस्पिटल ( Hospital ) पहुंचाया जाता तो शायद वह बच सकता था।

पुलिस वाले लेकर गए हॉस्पिटल

इस पूरे मामले पर साउथ दिल्ली पुलिस के डिप्टी कमिश्नर अतुल कुमार ठाकुर ( Atul Kumar Thakur ) का कहना है कि बीट पुलिस को किसी ने इसकी सूचना दी। बीट पुलिस ने बुजुर्ग को हॉस्पिटल ले जाने के लिए तीन एंबुलेंस को फोन किया। अतुल कुमार ठाकुर ने बताया कि एक कॉन्स्टेबल ने किसी तरह PPE किट का इंतजाम किया और बुजुर्ग को एंबुलेंस से हॉस्पिटल ले जाया गया। डिप्टी कमिश्नर ने बताया कि पहले हमने सोचा कि उसे पास के हॉस्पिटल में भर्ती कराया जाए, लेकिन एंबुलेंस के ड्राइवर ने कहा कि वहां अंदर जाने की इजाजत नहीं मिलेगी।

COVID-19 के बारे में अभी स्पष्ट नहीं

इसके बाद बुजुर्ग को लाल बहादुर शास्त्री हॉस्पिटल ले जाया गया। लेकिन, डॉक्टर्स ने कहा कि उसकी मौत हो चुकी है। हालांकि, अभी यह साफ नहीं हो सका है कि वह कोरोना का शिकार था भी या नहीं। कहा ये भी जा रहा है कि अगर समय पर बुजुर्ग को हॉस्पिटल लाया जाता तो शायद वह बच सकता था। फिलहाल, इस मामले की छानबीन की जा रही है। लेकिन, इस घटना से इलाके में सनसनी मच गई है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले साल तक बुजुर्ग AIIMS में अटेंडेंट के रूप में काम करता था।

COVID-19 coronavirus
Kaushlendra Pathak
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned