दिल्ली में मेट्रो सेवा शुरू होते ही लोगों ने उड़ाई कोरोना नियमों की धज्जियां, बंद करने पड़े कई स्टेशन

मेट्रो सेवाएं शुरू करने से पहले बीते दिन DMRC ने स्पष्ट तौर पर कहा था कि मेट्रो के अंदर खड़े होकर यात्रा करने की इजाजत नहीं दी जाएगी। साथ ही 50 फीसदी क्षमता के साथ ही मेट्रो को चलाया जाएगा।

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कोरोना संक्रमण के मामलों में कमी को देखते हुए सोमवार से अनलॉक की प्रक्रिया शुरू की गई। इसके तहत मेट्रो सेवाओं को भी फिर से बहाल किया गया। लेकिन मेट्रो सेवाएं शुरू होने के साथ ही लोगों ने जमकर कोरोना नियमों की धज्जियां उड़ाई।

दरअसल, मेट्रो सेवाएं शुरू करने से पहले बीते दिन DMRC ने स्पष्ट तौर पर कहा था कि मेट्रो के अंदर खड़े होकर यात्रा करने की इजाजत नहीं दी जाएगी। साथ ही 50 फीसदी क्षमता के साथ ही मेट्रो को चलाया जाएगा।

यह भी पढ़ें :- मेट्रो सेवाएं शुरू करने पर AIIMS COVID टास्कफोर्स का एतराज, कहा- तुरंत नहीं करनी चाहिए बहाल

लेकिन करीब तीन हफ्ते बाद सोमवार को मेट्रो सेवाएं बहाल होने के बाद लोगों ने जमकर नियमों की धज्जियां उड़ाई। लोगों की भारी भीड़ और नियमों को टूटता देख दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन ने कई मेट्रो स्टेशनों बंद कर दिया।

इन रूटों पर लोगों ने सबसे अधिक नियमों को तोड़ा

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, दिल्ली मेट्रो के कई रूटों पर लोगों ने नियमों की धज्जियां उड़ाई। सबसे अधिक ब्लू लाइन पर निर्माण विहार से राजीव चौक और यलो लाइन पर राजीव चौके से आईएनए मेट्रो स्टेशन के बीच लोगों ने जमकर नियमों को तोड़ा।

यात्रियों की भारी भीड़ और नियमों का टूटता देख दिल्ली मेट्रो ने कई स्टेशनों को बंद करने का फैसला लिया। DMRC ने बयान जारी कर बताया, 'भीड़ को नियंत्रित करने और स्टेशन के अलावा ट्रेनों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए कुछ स्टेशनों पर एंट्री गेट को रुक-रुक कर बंद किया जा रहा है और छोटी अवधि के लिए खोला जा रहा है।'

यह भी पढ़ें :- सोमवार से मेट्रो सेवाएं शुरू, स्मार्ट कार्ड के साथ टोकन से भी कर सकेंगे यात्रा: DMRC

DMRC के एक अधिकारी ने बताया 'दिल्ली मेट्रो में आने-जाने के लिए स्मार्ट कार्ड और टोकन दोनों की अनुमति है। हालांकि, संपर्क रहित संचार (Contactless Communication) को ध्यान में रखते हुए स्मार्ट कार्डों को प्राथमिकता दी जाएगी।

मेट्रो स्टेशनों व स्टेशन परिसर के बाहर दिल्ली पुलिस के जवानों को तैनात किया गया है, ताकि कोरोना संक्रमण से बचाव और नियमों का पालन सुनिश्चित किया जा सके।

ये हैं मेट्रो के नए नियम

मालूम हो कि DMRC ने मेट्रो सेवाओं को बहाल करने से पहले नए नियम जारी किए हैं और इन्ही नियमों के तहत ही मेट्रो का संचालन किया जा रहा है। अधिकारियों ने बताया कि मेट्रो सेवाएं 50 फीसदी क्षमता के साथ ही चलेंगी। किसी भी यात्री खड़े होकर यात्रा करने की इजाजत नहीं दी जाएगी।

मेट्रो ट्रेन का परिचालन अपने निर्धारित समय सुबह छह बजे से शुरू होगा, लेकिन मेट्रो की विभिन्न लाइनों पर केवल आधी ट्रेनों का ही संचालन किया जाएगा। यात्रियों को हर पांच से 15 मिनट के अंतराल पर मेट्रो मिलेगी। बता दें कि कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए दिल्ली मेट्रो रेल निगम (DMRC) ने 20 मई को पूरी तरह से मेट्रो सेवाएं निलंबित कर दी थी।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned