राहुल गांधी ने मछुआरों को बताया समंदर का किसान, कहा- ‘इनके लिए बने अलग से एक मंत्रालय’

  • पुडुचेरी दौरे पर राहुल गांधी
  • मछुआरों को बताया समंदर का किसान
  • मछुआरों के लिए अलग मंत्रालय बनाने की कही बात
  • कहा- मछुआरों की भी आवाज सुने मोदी सरकार

नई दिल्ली।पुडुचेरी विधानसभा का कार्यकाल 21 जून 2021 को समाप्त हो रहा है। ऐसे में विधानसभा का चुनाव अप्रैल में होने की उम्मीद है। इस चुनाव को लेकर सभी राजनितीक पार्टियां राज्य में जमकर रैली कर रही है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी भी केंद्र शासित प्रदेश पुडुचेरी के मुथियालपेट दौरे पर हैं। राहुल गांधी ने मछुआरों से सीधा संवाद किया और उनकी समस्याओं का जानने की कोशिश की। उन्होंने कहा, ‘मछुआरे समुद्र के किसान हाेते हैं। आपको भी पेंशन, बीमा मिलना चाहिए। केंद्र सरकार में मछुआरों के लिए एक अलग मंत्रालय होना चाहिए, ताकि उनकी आवाज भी सुनी जा सके।’

पायलट पद से हटे तो 7 साल बाद मंच का बदला नजारा, गहलोत-डोटासरा से घिरे रहे राहुल

‘आप समंदर वाले किसान’

मछुआरों से बात करते हुए गांधी ने कहा, ‘आप भी देश के समंदर वाले किसान हो, जो देशवासियों के लिए काम कर रहे हो।हम चाहते हैं कि समंदर की ताकत मछुआरों के पास रहे, ना कि सिर्फ एक-दो लोगों के पास रहे।’ क‍ृषि कानूनों पर बात करते हुए उन्होंने कहा, ‘यह कानून सिर्फ किसान ही नहीं बल्कि आप जैसे मछुआरों और सभी आम लोगों को नुकसान पहुंचा सकते हैं।’ कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा, ‘यहां पर तमिल भाषा ही सर्वोपरि है और उसके बाद किसी अन्य भाषा को सुना जाना चाहिए।’


मनोज तिवारी का राहुल गांधी का राहुल गांधी पर तीखा हमला

rahulgandhi.jpeg

चुनाव से पहले राहुल गांधी का पहला दौरा

बता दें इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले राहुल गांधी का यहां का पहला दौरा है। उनका ये दौरा कांग्रेस के लिए बेहद जरूरी बताया जा रहा है, क्योंकि यहां कांग्रेस की सरकार पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं। बीते दिन ही कांग्रेस के चार विधायकों ने इस्तीफा दे दिया है, जिसके बाद नारायणसामी की सरकार अल्पमत में आ गई है। इतना ही नहीं केंद्र सरकार ने किरण बेदी को पुडुचेरी के उपराज्यपाल के पद से हटा दिया है।इस वजह से यहां बड़ा राजनीतिक संकट खड़ा हो गया है।

Vivhav Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned