गुरुग्राम: जज की पत्‍नी की हत्‍या मामले में आया नया मोड़, धर्म परिवर्तन पर बहस से नाराज था 'गनर'

गुरुग्राम: जज की पत्‍नी की हत्‍या मामले में आया नया मोड़, धर्म परिवर्तन पर बहस से नाराज था 'गनर'

Dhirendra Mishra | Publish: Oct, 14 2018 11:05:13 AM (IST) | Updated: Oct, 14 2018 11:41:21 AM (IST) इंडिया की अन्‍य खबरें

आठ महीने पहले गनर ने धर्म परिवर्तन कर लिया था। इस बात को लेकर जज की पत्नी से गनर की तीखी बहस होती थी।

नई दिल्‍ली। गुरुग्राम में शनिवार दोपहर अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्‍यायाधीश कृष्णकांत की पत्नी और बेटे की हत्‍या के मामले में नया मोड़ आ गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार 40 वर्षीय गनर महिपाल यादव ने आठ महीने पहले धर्म परिवर्तन कर लिया था। वह डेढ़ साल से जज कृष्णकांत की सुरक्षा में तैनात था। इस बीच वह घर के लोगों से घुलमिल गया था। लेकिन हिंदू धर्म को त्यागकर क्रिश्चियन धर्म अपना लेने की बात पर जज की पत्‍नी की बहस से वो नाराज चल रहा था। बताया जा रहा है कि धार्मिक बातों पर जज की पत्नी के साथ उसकी बहस होती थी। इस बात का खुलासा पुलिस हिरासत में पूछताछ के दौरान खुद महिपाल ने किया है। उसने कहा है कि धर्म परिवर्तन को लेकर जज की पत्नी उसे परेशान करती थी।

विदेश दौरे से दिल्‍ली लौटे एमजे अकबर ने मीडिया से कहा- बाद में दूंगा जवाब

मेदांता में हुई मौत
बता दें कि यह घटना शनिवार दोपहर करीब साढ़े तीन बजे की है। जज कृष्‍णकांत के परिवार की सुरक्षा में तैनात गार्ड महिपाल यादव के साथ उनकी पत्नी रितु और बेटे ध्रुव खरीदारी के लिए गुरुग्राम के सेक्टर-51 स्थित आर्केडिया मार्केट गए थे। मार्केट के बीच कार रोकने के बाद जैसे ही मां-बेटे बाहर निकले महिपाल ने गोलियों से दोनों को छलनी कर दिया। वारदात के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों को मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया। मेदांता अस्‍पताल में इलाज के दौरान जज की पत्नी रितु की मौत हो गई। जज का बेटा ध्रुव जिंदगी और मौत के बीच संघर्ष कर रहा है। फिलहाल ध्रुव की हालत गंभीर है।

राहुल गांधी के दौरे के बाद HAL प्रबंधन का बड़ा बयान, रफाल पर राजनीति राष्‍ट्रीय सुरक्षा के लिए नुकसानदेह

जज और मां को घटना की जानकारी दी
जज की पत्‍नी और बेटे को गोली से छलनी करने के बाद गनर महिपाल यादव सीधे सदर थाने पहुंचा। जहां पर उसने फायरिंग की। इसके बाद वहां से भी भाग निकला। पुलिस ने नाकेबंदी कर गुड़गांव-फरीदाबाद रोड पर ग्वाल पहाड़ी के पास उसे पकड़ लिया। पुलिस पूछताछ में महिपाल ने बताया कि उसने मां-बेटे को गोली मारने के बाद जज और अपनी मां को फोन किया था और वारदात की जानकारी दी थी। पूछताछ के दौरान ही महिपाल ने जज की पत्‍नी और उसके बेटे की हत्‍या करने के पीछे धर्म परिवर्तन को लेकर बहस को अहम कारण बताया है। पूछताछ के दौरान ही महिपाल ने जज की पत्‍नी और उसके बेटे की हत्‍या करने के पीछे धर्म परिवर्तन को अहम कारण बताया है। दूसरी तरफ पुलिस इस मामले में अन्‍य पहलुओं पर भी विचार कर रही है। पुलिस इस बात की पड़ताल करने में भी जुटी है कि हीं महिपाल के पीछे किसी और का तो हाथ नहीं है। डीसीपी सुलोचना गजराज के नेतृत्व में एसआईटी प्रदेश सरकार ने एसआईटी गठित कर दी है। एसआईटी में डीसीपी, 2 एसीपी और 4 इंस्पेक्टर शामिल हैं।

गिरिराज सिंह ने गुजरात में बिहारियों पर हमले के लिए कांग्रेस विधायक अल्‍पेश ठाको...

Ad Block is Banned