script भारत सरकार का बड़ा फैसला, Afghanistan से आने वालों के लिए जारी होगा E-Emergency x misc Visa | India Govt announces new category of E Emergency x misc visas for afghan nationals | Patrika News

भारत सरकार का बड़ा फैसला, Afghanistan से आने वालों के लिए जारी होगा E-Emergency x misc Visa

locationनई दिल्लीPublished: Aug 17, 2021 01:27:59 pm

Afghanistan से आने वालों के लिए भारत सरकार ने की नई वीजा श्रेणी की घोषणा, अब E-Emergency x misc Visa के जरिए आवेदनों को तेजी से किया जाएगा ट्रैक

245.jpg
नई दिल्ली। भारत सरकार ( Indian Government ) ने अफगानिस्तान ( Afghanistan ) में चल रहे संकट के बीच बड़ा फैसला लिया है। दरअसल अफगानिस्तान सेआने वालों के लिए भारत सरकार ने नई वीजा श्रेणी की घोषणा की है।
इसके तहत सरकार ने भारत में प्रवेश करने के लिए इच्‍छुक लोगों के वीजा आवेदनों को तेजी से ट्रैक करने के लिए 'ई-आपातकालीन एक्स-मिस्‍क वीजा' ( E-Emergency X- Misc Visa ) नाम से इलेक्ट्रॉनिक वीजा की एक नई कैटेगरी शुरू की है।
यह भी पढ़ें

Afghanistan: जिस विमान से गिरे लोग, उसके अंदर का नजारा देख कर रह जाएंगे दंग

No data to display.
246.jpgअफगानिस्तान से भारत आने की इच्छा रखने वाले अफगान नागरिकों की अर्जियों पर जल्द फैसला हो इसके लिए गृह मंत्रालय ने मंगलवार को वीजा की नयी श्रेणी की घोषणा की।
गृह मंत्रालय के प्रवक्ता के मुताबिक अफगानिस्तान में मौजूदा हालात को देखते हुए वीजा प्रावधानों की समीक्षा की गई। भारत में प्रवेश के लिए वीजा अर्जियों पर जल्द फैसला हो इसके लिए ई-आपातकालीन एवं अन्य वीजा की नयी श्रेणी बनाई है।
विमान से गिरकर तीन की हुई थी मौत
तालिबान के खौफ के चलते अफगानिस्तान छोड़ने के लिए हजारों की तादाद में लोग एयपोर्ट पहुंच रहे हैं। सोमवार को देश छोड़कर दूसरी जगह जाने की जल्दी में कुछ नागरिक सेना के जेट पर सवार हो गए, जिसमें से तीन की गिरकर मौत हो गई थी। अमरीकी अधिकारी के मुताबिक अफगानिस्तान में भगदड़ के कारण करीब सात लोगों की मौत हो गई।
वैसे तो राजधानी काबुल में किसी तरह की प्रताड़ना या बड़े हमलों की खबर नहीं है, लेकिन विद्रोहियों के लगातार आगे बढ़ने, जेलों से खूंखार कैदियों को रिहा करने और हथियार लूटने जैसी घटनाओं के चलते लोगों में दहशत का महौल है। स्थानीय लोग को अपनी जान का डर सता रहा है। यही वजह है कि लोग हर कीमत पर अफगान छोड़ना चाहते हैं।
यह भी पढ़ेँः Afghanistan: भारतीयों के लिए फिर देवदूत बनी वायुसेना, काबुल से 148 लोगों को लेकर लौटा

सिर्फ एक हफ्ते में बगड़ गए हालात
अफगानिस्तान में हालात महज एक हफ्ते में बिगड़ गए। हालांकि संघर्ष लंबे समय से चल रहा था। तालिबान ने पश्चिमी संस्कृति के समर्थन वाली सरकार को हटा कर एक सप्ताह के अंदर ही काबुल पर कब्जा जमा लिया।
वहीं तालिबान ने बड़े नेताओं ने कहा है कि अफगानिस्तान छोड़कर जाने वालों का पूरा ध्यान रखा जाएगा। किसी को भी किसी भी तरह की परेशानी नहीं होगी, लेकिन तालिबान के इतिहास की वजह से लोगों का डर अब भी कायम है।

ट्रेंडिंग वीडियो