भारतीय सेना ने तैयार की देसी Anti Drone Gun, अब दुश्मनों की साजिश होगी नाकाम

भारतीय सेना ने अब पाकिस्तान (Pakistan) की ड्रोन वाली साजिश नाकाम करने के लिए Anti Drone Gun तकनीक तैयार कर ली है। इस गन की खासियत है कि यह किसी भी फ्लाइंग ऑब्जेक्ट को मार गिराने में सक्षम है।

जम्मू। जम्मू-कश्मीर में लगातार आतंकी घटनाओं को अंजाम देने के लिए नापाक चाल चलने वाले पाकिस्तान की साजिशों को हर बार भारतीय जाबाजों ने नाकाम किया है। अब बीते कुछ समय से पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों को अंजाम देने के लिए ड्रोन का इस्तेमाल कर रहा है, जो कि भारतीय सुरक्षाबलों के लिए एक चिंता का सबब बन गया था। लेकिन अब भारत ने इसका तोड़ निकाल लिया है।

यह भी पढ़ें :- पाकिस्तानी ड्रोनों से निपटने के लिए आई एंटी ड्रोन गन, जानिए क्या है इसकी खासियत

दरअसल भारतीय सेना ने अब पाकिस्तान (Pakistan) की ड्रोन वाली साजिश नाकाम करने के लिए Anti Drone Gun तकनीक तैयार कर ली है। इस गन की खासियत है कि यह किसी भी फ्लाइंग ऑब्जेक्ट को मार गिराने में सक्षम है। सबसे खास बात कि इसके साथ 3 इंसास राइफल्स को देसी तकनीक के साथ जोड़ा गया है। इस इस प्रकार से जोड़ा गया है कि ट्रिगर दबाने पर एक साथ तीनों गन अपने टारगेट पर फायर कर सकती है।

ये है एंटी ड्रोन गन की खासियत

जानकारी के मुताबिक, इस एंटी ड्रोन गन में कई तरह की खासियत है। एंटी ड्रोन गन की मैगजीन में 20 राउंड यानी 20 गोलियां आती हैं। यानी कि जब तीनों गन एक साथ फायर करेंगी तब एक मिनट में लगातार 60 गोलियां निकलेंगी। ऐसे में दुश्मन के ड्रोन को आसानी के साथ मार गिरा सकती है।

यह भी पढ़ें :- Jammu Drone Attack: सात बिंदुओं में समझें भारत की नई ड्रोन नीति

इस एंटी ड्रोन के बुलेट मैगज़ीन में रोशनी करने वाला ट्रेसर बुलेट भी लगाया गया है, ताकि अंधेरे का फायदा लेकर ड्रोन बचने में कामयाब न हो जाए। यह ट्रेसर बुलेट फायर पोजीशन को बताता रहता है, जिससे टारगेट को हिट करना आसान है। इसके अलावा Anti Drone Gun करीब 700 से 800 मीटर हवा में 360 डिग्री एंगल तक घूम कर मार कर सकती है।

ड्रोन से आतंकियों ने किया था हमला

आपको बता दें कि कुछ दिनों पहले जम्मू स्थित वायुसेना के एयरबेस पर आतंकियों ने ड्रोन के जरिए हमला किया था। हालांकि, इससे ज्यादा कुछ क्षति नहीं हुई थी। इसके बाद से लगाातर पाकिस्तान सीमा पर ड्रोन के गतिविधियां देखी गईं। ड्रोन हमले को गंभीरता से लेते हुए केंद्र सरकार ने अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी इस मुद्दे को उठाया। वहीं केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने एंटी ड्रोन सिस्टम विकसित कर सीमा पर तैनात किए जाने की बात कही थी।

Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned