Good News: ट्रेन रवानगी से 5 मिनट पहले तक मिल सकेगी सीट, रेल नियमों में हुआ बदलाव

-Indian Railways: त्योहारी सीजन ( Festival Season ) में रेल यात्रा को सुगम बनाने के लिए रेलवे कई कदम उठा रहा है।
-रेलवे ने 78 नई ट्रेन ( 78 Special Train Full List ) चलाने का ऐलान किया है।
-इन ट्रेनों में एसी स्पेशल, राजधानी, शताब्दी ( Shatabdi Express ) और दूरंतों ( Duronto ) श्रेणी की होंगी।
-यात्रियों को ट्रेन के स्टेशन से रवाना होने से 5 मिनट पहले तक बर्थ अलॉट हो सकेगी।

By: Naveen

Published: 09 Oct 2020, 10:30 AM IST

नई दिल्ली।
Indian Railways: त्योहारी सीजन ( Festival Season ) में रेल यात्रा को सुगम बनाने के लिए रेलवे कई कदम उठा रहा है। रेलवे ने 78 नई ट्रेन ( 78 Special Train Full List ) चलाने का ऐलान किया है। इन ट्रेनों में एसी स्पेशल, राजधानी, शताब्दी ( Shatabdi Express ) और दूरंतों ( Duronto ) श्रेणी की होंगी। नवरात्र ( Navratri 2020 ) के पहले दिन तेजस ट्रेन का संचालन शुरू हो जाएगा।

यह ट्रेनें दिल्ली से लखनऊ और दूसरी अहमदाबाद से मुंबई के बीच चलेगी। वहीं, अब यात्रियों को ट्रेन के स्टेशन से रवाना होने से 5 मिनट पहले तक बर्थ अलॉट हो सकेगी। रेलवे ने इसके लिए नई सुविधा शुरू की है, जो रिजर्वेशन काउंटरों ( Train Reservation ) व ऑनलाइन टिकटों पर मिलेगी। इससे यात्रियों को काफी फायदा होगा।

Indian Railways: नवरात्र से पहले कहां-कहां चलेंगी नई AC Special Train, यहां देखें 78 ट्रेनों की पूरी लिस्ट

आधे घंटे पहले तैयार होगा दूसरा चार्ट
रेल मंत्रालय द्वारा कहा गया है कि पांच मिनट से लेकर आधे घंटे के बीच संबंधित ट्रेन का दूसरा चार्ट तैयार किया जाएगा। जिसमें बर्थ खाली रहने पर 5 से 10 फीसदी यानी लगभग 120 से अधिक यात्रियों को सीट उपलब्ध कराई जाएगी। इसके लिए रेलवे 10 अक्टूबर से यात्रियों को यह सुविधा प्रदान करने जा रहा है। रेल मंत्रालय ने तकनीकी सहयोग देने वाले क्रिस से सॉफ्टवेयर में परिवर्तन करने को कहा है।

रेलवे की बड़ी घोषणा, 9 अक्टूबर से चलाएगा पांच जोड़ी Special Trains

कैसे करेगा काम?
रेलवे ने बताया कि भोपाल एक्सप्रेस समेत कई ट्रेनों में विभिन्न श्रेणी की 15 से 20 फीसदी तक बर्थ खाली पड़ी रहती हैं। लेकिन, ट्रेन का चार्ट पहले बनाए जाने के कारण ऐसे यात्रियों को बर्थ अलॉट नहीं हो पाती है, जो अचानक स्टेशन पहुंचते हैं। इसलिए रेलवे ने कम से कम 5 मिनट और अधिकतम आधे घंटे पहले तक ट्रेनों का चार्ट बनाए जाने का सिस्टम शुरू करने जा रहा है। इससे यात्रियों को ट्रेन के भीतर चलने वाले चेकिंग स्टाफ से बर्थ लेने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned