वायरल हुई अमित शाह की 9 साल पहले की शायरी, कहा था- समंदर हूं, लौटकर जरूर आऊंगा

वायरल हुई अमित शाह की 9 साल पहले की शायरी, कहा था- समंदर हूं, लौटकर जरूर आऊंगा

  • 9 साल पहले जब अमित शाह जेल गए थे, उस वक्त पी चिदंबरम गृह मंत्री थे
  • जेल जाने के वक्त अमित शाह ने पढ़ा था शेर
  • सोशल मीडिया पर लोग अमित शाह की शायरी को कर रहे हैं शेयर

नई दिल्ली। INX मीडिया केस में देश के पूर्व गृह मंत्री पी चिदंबरम बुरी तरह फंस गए हैं। 26 अगस्त तक चिदंबरम सीबीआई रिमांड पर हैं। वहीं, सुप्रीम कोर्ट में उनकी जमानत याचिका पर सोमवार को सुनवाई होगी। चिदंबरम की गिरफ्तारी सोशल मीडिया पर भी छाई हुई है।

यूजर्स बड़ी बेबाकी से अपनी राय रख रहे हैं। लोग इस मामले को वर्तमान गृह मंत्री अमित शाह से भी जोड़ रहे हैं। कुछ लोग तो यहां तक कह रहे हैं कि वक्त बदल गया है, जिस खेल में कभी कांग्रेस ने बीजेपी के दिग्गज नेता को शिकस्त दी थी उसमें अब कांग्रेस के फायरब्रांड नेता को मुंह की खानी पड़ रही है। इतना ही नहीं 9 साल पहले अमित शाह ने अपनी गिरफ्तारी के वक्त जो शेर कहा था उसे भी याद किया जा रहा है।

पढ़ें- INX Media Case: चिदंबरम की गिरफ्तारी के खिलाफ याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सोमवार को सुनवाई

 

amit_shah_2.jpg

पहले जानिए अमित शाह ने कौन सा शेर पढ़ा था...

गृह मंत्री अमित शाह ने गिरफ्तारी के वक्त कहा था...

'मेरा पानी उतरता देख
किनारे पर घर मत बना लेना,
मैं समंदर हूं
लौटकर जरूर आऊंगा'

सोशल मीडिया पर इस शेर को शेयर करते हुए लोग कह रहे हैं कि क्या शाह ने इसी दिन के लिए यह शेर पढ़ा था। ये शह और मात का खेल है, जिसमें हर बाजी भाजपा के हाथ में हैं।

पढ़ें- पी चिदंबरम VS अमित शाह: सियासत का बदलापुर?

 

amit_shah_3.jpg

अब थोड़ा फ्लैशबैक में गौर कीजिए...

नौ साल पहले देश में यूपीए-2 का शासन था और पी चिदंबरम देश के गृह मंत्री थे। उस वक्त सोहराबुद्दीन शेख एनकाउंटर का मामला काफी सुर्खियों में था। इस मामले में अमित शाह को तीन महीने जेल में रहना पड़ा था। उन्हें 29 अक्टूबर 2010 को जमानत मिली।

लेकिन जमानत के बाद भी उनके गुजरात जाने पर पाबंदी लगा दी गई। गिरफ्तारी से पहले अमित शाह चार दिनों तक गायब रहे। दो साल बाद जब शाह गुजरात लौटे तो उन्होंने यह शेर पढ़ा था। वहीं, अब इस शेर को आज के संदर्भ से जोड़ कर देखा जा रहा है। लोगों का कहना है कि नौ साल बाद मामले ने यू टर्न लिया है।

 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned