कृष्ण की राधा बन बैठा यह IPS अफसर, भक्ति ऐसी कि छोड़ दी पुलिस की नौकरी

कृष्ण की राधा बन बैठा यह IPS अफसर, भक्ति ऐसी कि छोड़ दी पुलिस की नौकरी
,,

  • IPS DK Panda ने बड़े ओहदे पर रहते हुए राधा का रूप धारण कर लिया
  • IPS DK Panda ने कृष्ण भक्ति में नौकरी तक छोड़ दी
  • उडीसा के रहने वाले 1971 बैच के IPS DK Panda

नई दिल्ली। 24 अगस्‍त यानी एक दिन बाद देश जन्‍माष्‍टमी की खुशियां मना रहा होगा। इस दौरान पूरा माहौल कृष्णमय और भक्तिमय हो जाता है।

कुछ लोग कृष्ण को झूला झुलाते हैं, तो कुछ उनके बाल रूप लड्डू गोपाल जी को प्रसाद चढ़ाते हैं। लेकिन आज हम आपको एक ऐसे कृष्‍ण भक्‍त के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसने पुलिस ( IPS DK Panda ) के बड़े ओहदे पर रहते हुए राधा का रूप धारण कर लिया।

कृष्ण के प्रति भक्ति ऐसी कि इस IPS ने नौकरी तक छोड़ दी।

 

दरअसल, हम बात कर रहे हैं कि पूर्व IPS डीके पांडा की। उडीसा के रहने वाले 1971 बैच के आईपीएस के करीबी जब पांडा के एक IPS से राधा में तब्दील होने की कहानी बयां करते हैं तो एकबार को यकीन नहीं होता।

दरअसल यह 1991 का वह समय था जब जन्‍माष्‍टमी काफी करीब थी। उनके अनुसार एक रात पांडा को भगवान कृष्‍ण ने सपने में दर्शन दिए।

बस अगले दिन वह जब सोकर उठे तो वह कुछ बदले—बदले से थे। कुछ दिनों बाद वह घर पर ही राधा का रूप धारण करने लगे थे।

रमेश, सिंघवी के बाद अब शशि थरूर की कांग्रेस को सलाह- PM मोदी के अच्छे कामों की हो तारीफ

 

f2.png

पांडा ( IPS DK Panda ) न केवल शीशे के सामने सजते संवरते, बल्कि सौलह श्रंगार करते। शरीर पर सुंदर साड़ी, मांग में भगवान कृष्ण के नाम का सिंदूर तो कानों में सोने की बालियां।

उनका यह रूप देखकर एक बार को तो सब घबरा जाते थे। हालांकि पहले ऐसा महीने में एक-आध बार ही होता था, लेकिन फिर यह कई बार होने लगा और 2005 में पांडा का राधा का यह रूप सबके सामने आ गया।

फरार विधायक अनंत सिंह से पूछताछ में जुटी दिल्ली पुलिस, साकेत कोर्ट ने मांगी जानकारी

 

f1.png

उनका ( IPS DK Panda ) यह रूप पत्नी और परिवार को नागवार गुजरा। परिवार टूटने की कगार पर आ गया। 2009 में पांडा की पत्‍नी ने गुजारा भत्‍ता के लिए पांडा पर केस दायर कर दिया।

हालांकि पांडा कहते हैं कि उनके दोनों बेटे उनकी कृष्‍ण के प्रति भक्ति का सम्मान करते हैं। लेकिन उन्होंने सार्वजनिक जीवन में उनसे दूरियां बना लीं।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned