पुलवामा हमले के 75 दिन बाद भारत ने फिर लिया बदला, आतंक के आका मसूद पर कसा शिकंजा

पुलवामा हमले के 75 दिन बाद भारत ने फिर लिया बदला, आतंक के आका मसूद पर कसा शिकंजा

  • पुलवामा हमले में शहीद हुए थे 40 जवान
  • जैश के आतंकी ने आत्मघाती हमले को दिया था अंजाम
  • हमले के बाद भारत ने बालाकोट में किया था एयर स्ट्राइक

नई दिल्ली। पुलवामा में आतंकी हमले ( pulwama attack ) के ठीक 75 दिन बाद भारत को आतंक के खिलाफ दुनिया में बहुत बड़ी कामयाबी मिली है। 14 फरवरी को हमले के बाद एक मई को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ( unsc ) ने बुधवार को आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के प्रमुख मसूद अजहर ( Masood Azhar ) को वैश्विक आतंकवादी घोषित कर दिया है।

आतंकवाद के खिलाफ भारत को बड़ी कामयाबी, UN ने मसूद अजहर को ग्लोबल आतंकी घोषित किया

14 फरवरी को हमला, 1 मई को आतंक पर शिकंजा

14 फरवरी को जम्मू कश्मीर के पुलवामा में आतंकियों ने सीआरपीएफ के काफिले पर हमला बोला था। जिसमें CRPF के 40 जवान शहीद हो गए थे। पाकिस्तान के आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने इस हमले की जिम्मेदारी ली थी। इसके बाद भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के बालाकोट में स्थित जैश के ठिकानों पर एयर स्ट्राइक कर दिया। इस ऑपरेशन में जैश के ढेरों आतंकी मारे गए। इन ठिकानों पर पाकिस्तान की ओर से आतंकियों को ट्रेनिंग दी जाती थी। कैंपों का संचालन मसूद ही कर रहा था। अब पूरे 75 दिन बाद भारत ने आतंक पर एक बड़ी जीत हासिल कर ली है।

गढ़चिरौली हमला: नक्सलियों ने पुलिस को अपने जाल में फंसाकर हमले को दिया अंजाम

सभी का धन्यवाद: अकबरूद्दीन

यूएन में भारत का प्रतिनिधित्व करने वाले स्थाई सदस्य सैयद अकबरूद्दीन ने इसकी जानकारी दी। उन्होंने ट्विटर पर लिखा कि मसूद अजहर संयुक्त राष्ट्र की प्रतिबंधित सूची में एक आतंकवादी के रूप में घोषित। सहयोग के लिए सभी का धन्यवाद।

Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर ..

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned