Jharkhand: अचानक फटी धरती और उसमें जिंदा समा गया युवक, खौफनाक मंजर देख इलाके में दहशत

झारखंड के धनबाद जिले के केंदुआडीह थाना क्षेत्र इलाके में अचनाक जमीन धंसने की वजह से उमेश पासवान नामक युवक उसमें जिंदा समा गया। इस घटना के बाद से पूरे इलाके में खौफ का माहौल है।

धनबाद। कहते हैं कब किस क्षण किसे क्या हो जाए ये कोई नहीं बता सकता है.. झारखंड के धनबाद जिले से ऐसा ही एक खौफनाक मामला सामने आया है, जिसको लेकर यह कहा जा सकता है। दरअसल, रविवार को धनबाद जिले में एक स्थान पर अचानक धरती फट गई और एक युवक देखते ही देखते उसमें जिंदा जमा गया। इस घटना के बाद से पूरे इलाके में दहशत का माहौल है।

जानकारी के मुताबाकि, एक युवक शौच के लिए जा रहा था, तभी अचानक जमीन फट गई और वह उसमें समा गया। इस खौफनाक नजारे को देखकर लोगों में खौफ का माहौल है। लोगों को ये समझ में नहीं आया कि अचनाक ये क्या और कैसे हुआ.. लोगों में इतना खौफ समा गया कि वे घटना स्थल तक जाने की हिम्मत भी नहीं जुटा पाए।

यह भी पढ़ें :- झारखंड के हजारीबाग में ऑक्सीजन के 193 सिलेंडर चोरी, पुलिस और स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप

इसके बाद इस मामले की सूचना स्थानीय पुलिस को दी गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने अपनी छानबीन शुरू की। उससे पहले युवक को गड्ढे से बाहर निकाल लिया गया। युवक बुरी तरह से घायल हो चुका था। उन्हें नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उनका इलाज चल रहा है।

क्या है पूरा मामला?

जानकारी के मुताबिक, यह दर्दनाक और खौफनाक मामला धनबाद जिले के केंदुआडीह थाना क्षेत्र का है। उमेश पासवान नामक युवक रविवार सुबह शौच के लिए जा रहा था। तभी अचनाक तेज धमाका हुआ और जमीन फट गई, जिसमें वह जिंदा समा गया। जमीन फटने के बाद गड्ढे से तेज धुआं निकलने लगा। इसे देखकर किसी को समझ नहीं आ रहा था कि ये क्या हुआ और कैसे हुआ?

इस घटना के बाद आसपास मौजूद लोगों ने शोर मचाना शुरू किया.. देखते ही देखते भारी संख्या में लोग इकट्ठा हो गए लेकिन किसी ने घटना स्थल तक जाने की हिम्मत नहीं जुटा पाई। इसके बाद जब इसकी जानकारी उमेश पासवान के भाई को मिली तो वह फौरन बिना कुछ सोचे समझे अपने भाई को बचाने के लिए घटनास्थल पर पहुंच गया और भाई को गड्ढे से निकालने की कोशिश करने लगे। अकेला मशक्कत करते देख कुछ लोग फिर हिम्मत करके उनका साथ देने के लिए पहुंचे और फिर उसे बाहर निकाला।

यह भी पढ़ें :- आकाशीय बिजली का कहर, यूपी समेत राजस्थान और झारखंड के इलाकों में 45 लोगों ने गंवाई जान

जब तक उमेश को बाहर निकाला गया, तब तक वह बुरी तरह से झूलस चुका था। उसे तत्काल नजदीकी अस्पाल में भर्ती कराया गया। इसके बाद इस पूरे मामले की जानकारी स्थानीय पुलिस को दी गई। मौके पर पहु्ंची पुलिस ने इलाके की घेराबंदी कर दी है और अपनी जांच शुरू कर दी है।

मालूम हो कि जिस स्थान पर यह खौफनाक घटना घटी है वहां पर बीसीसीएल के आऊट सोर्सिंग प्रोजेक्ट का काम चल रहा है। इस पूरे इलाके में कोयले का पर्याप्त भंडार है। धनबाद-झरिया के इलाके में जमीन के अंदर वर्षों पहले आग लगी है, जिसे अब तक बुझाया नहीं जा सका है। ऐसे में इस तरह से जमीन धंसने की घटनाएं अक्सर यहां पर देखी जाती रही है।

Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned