लॉकडाउन पर तेलंगाना के सीएम का बड़ा बयान, बिगड़ जाएगी इकोनॉमी

कोविड-19 से उबरने के बाद पहली बैठक की अध्यक्षता करते हुए, केसीआर ने कहा कि उन्होंने यह निर्णय उन राज्यों में स्थिति की जांच के बाद लिया, जहां तालाबंदी लगाई गई थी और जहां पिछले अनुभवों को ध्यान में रखते हुए संक्रमण के मामलों में कमी नहीं आई है।

हैदराबाद। तेलंगाना मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने एक बार फिर स्पष्ट करते हुए कि राज्य में लॉकडाउन नहीं लगाया जाएगा। इस तरह के कदम से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो जाएगा और इससे अर्थव्यवस्था में गिरावट आएगी। आपको बता दें कि तेलंगाना में दूसरे राज्यों के मुकाबले कोरोना के केसों की संख्या में कमी है। जिसकी वजह से राज्य में लॉकडाउन लगाने की बात पर विचार नहीं किया जा रहा है। वैसे प्रदेश में 77 हजार से एक्टिव केस हैं।

यह भी पढ़ेंः- देश में बेकाबू हो रहा कोरोना संक्रमण, एक दिन में सामने आए डराने वाले आंकड़े

लॉकडाउन लगाने का कोई फायदा नहीं
कोविड-19 से उबरने के बाद पहली बैठक की अध्यक्षता करते हुए, केसीआर ने कहा कि उन्होंने यह निर्णय उन राज्यों में स्थिति की जांच के बाद लिया, जहां तालाबंदी लगाई गई थी और जहां पिछले अनुभवों को ध्यान में रखते हुए संक्रमण के मामलों में कमी नहीं आई है। उन्होंने कहा, लॉकडाउन लगाने का कोई फायदा नहीं है। चूंकि तेलंगाना देश में सबसे अधिक होने वाला राज्य है, इसलिए दूसरे राज्यों से 25 से 30 लाख कर्मचारी यहां काम कर रहे हैं। हमने देखा है कि पहली लहर के दौरान हमने जो लॉकडाउन लगाया था, उससे उनके जीवन पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ा।

यह भी पढ़ेंः- APU Report: कोरोना महामारी ने 23 करोड़ भारतीयों को गरीबी में धकेला

तेलंगाना में कोविड का हाल
अगर बात तेलंगाना में कोविड19 के हालातों की बात करें तो बीते 24 घंटे में 6 हजार से ज्यादा नए केस देखने को मिले हैं। जिसके बाद प्रदेश में कुल एक्टिव केसों की संख्या 77 हजार से ज्यादा हो गई है। जबकि प्रदेश में कोरोना के कुल मामले 4.75 लाख हो गए हैं। अगर बात मौतों की करें तो बीते 24 घंटे में 50 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। जिसके बाद मरने वाले लोगों की कुल संख्या करीब 2600 पर आ गई है।

Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned