scriptParliament Monsoon Session: 19 जुलाई 13 अगस्त तक चलेगा संसद का मानसून सत्र, 18 को होगी ऑल पार्टी मीटिंग | Lok sabha Speaker OM birla says Parliament Monsoon Session will start from July 19 | Patrika News

Parliament Monsoon Session: 19 जुलाई 13 अगस्त तक चलेगा संसद का मानसून सत्र, 18 को होगी ऑल पार्टी मीटिंग

Published: Jul 12, 2021 03:08:58 pm

19 जुलाई से शुरू होगा संसद का मानसून सत्र, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने अब तक कितने सांसदों ने नहीं लगवाया कोरोना का टीका

Lok sabha Speaker Om Birla

Lok sabha Speaker Om Birla

नई दिल्ली। संसद का मानसून सत्र ( Parliament Monsoon Session ) 19 जुलाई से 13 अगस्त तक होगा। कोरोना काल के दौरान होने वाले इस सत्र में कुल 19 बैठकें आयोजित की जाएंगी। लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने सोमवार को इस बात की पुष्टि की।
उन्होंने कहा कि संसद का मानसून सत्र के दौरान कुल 19 कार्यदिवस होंगे। उन्होंने ये भी कहा कि पहले भी कोरोना काल के बीच संसद के तीन सत्र आयोजित किए जा चुके हैं। इस दौरान बड़ी संख्या में सांसदों ने हिस्सा लिया था।
यह भी पढ़ेंः सुपरस्टार रजनीकांत ने राजनीति को लेकर किया बड़ा ऐलान, आखिरकार इस बात से हटाया पर्दा

कोविड नियमों को होगा पालन
लोकसभा स्पीकर ओम बिडला ने कहा कि संसद सत्र के दौरान सभी सदस्यों और मीडिया को कोरोना नियमों के मुताबिक ही प्रवेश दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस दौरान RTPCR टेस्ट अनिवार्य नहीं है।
हालांकि हम उन लोगों से अनुरोध करेंगे जिन्होंने परीक्षण से गुजरने के लिए टीकाकरण नहीं कराया है।
24 घंटे टेस्ट की सुविधा
बिरला ने कहा कि मौजूदा समय में कई राज्‍यों में संक्रमण 5 फीसदी से ज्‍यादा है। ऐसे में सुरक्षा के लिहाज से RTPCR की सुविधा 24 घंटे उपलब्‍ध रहेगी।
उन्‍होंने बताया कि 311 सांसदों ने कोरोना का दूसरा डोज ले लिया है जबकि 23 सांसदों ने वैक्‍सीन नहीं लगवाई है। सांसदों के स्‍टाफ के लिए भी वैक्‍सीनेशन की व्‍यवस्‍था है।

यह भी पढ़ेंः कांग्रेस छोड़ इस दिन टीएमसी जॉइन करने जा रहे हैं शत्रुघ्न सिन्हा, ममता की ओर से मिल सकता है बड़ा इनाम

इस दिन होगी आल पार्टी मीटिंग
लोकसभा स्पीकर ने बताया कि संसद सत्र शुरू होने से पहले 18 जुलाई को आल पार्टी मीटिंग बुलाई गई है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि जो 36 नए सांसद अब मंत्री बन गए हैं, उनकी वजह से पॉर्लियामेंट कमेटी में बनी वैकेंसी जल्‍द भरी जाएंगी।
बिरला ने बताया कि, संसदीय कार्यवाही (Parliamentary proceeding) के डिजिटलाइजेशन के लिए पहल की जाएगी और पार्लियामेंट की लाइब्रेरी को पूरी तरह डिजिटलाइज किया जाएगा। लोकसभा स्पीकर ने सत्र के दौरान सभी राजनीतिक दलों से सहयोग की उम्‍मीद जताई।
loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो