scriptउद्धव ठाकरे ने पीएम मोदी को पत्र लिख कर कोविड-19 से निपटने के लिए सहायता मांगी | Maharashtra CM Uddhav Thackeray writes letter to PM Modi | Patrika News

उद्धव ठाकरे ने पीएम मोदी को पत्र लिख कर कोविड-19 से निपटने के लिए सहायता मांगी

Published: Apr 15, 2021 03:41:25 pm

प्रधानमंत्री मोदी को लिखे गए पत्र में उद्धव ठाकरे ने लिखा है कि राज्य में कोविड-19 के कारण स्थितियां बिगड़ती जा रही हैं। ऐसे में कोविड़ 19 को राष्ट्रीय महामारी घोषित कर तत्काल प्रभावी कदम उठाए जाने चाहिए।

Uddhav Thackeray

Uddhav Thackeray

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने प्रधानमंत्री मोदी को कोविड 19 की प्रभावी तरीके से रोकथाम करने के लिए पत्र लिख कर सुझाव दिए हैं। पत्र में उन्होंने महाराष्ट्र में बढ़ते कोरोना केसेज का हवाला देते हुए मोदी सरकार से राज्य की आम जनता और उद्यमियों को राहत देने के लिए जरूरी कदम उठाने की मांग की है।
उद्धव ठाकरे ने लिखा है कि राज्य में कोरोना के कारण बिगड़ते हालातों को देखते हुए छोटे तथा मध्यमवर्गीय टैक्सपेयर्स को मार्च, अप्रैल तथा मई का GST रिटर्न्स फाइल करने के लिए दी गई समयसीमा को 3 महीने बढ़ाने की सलाह दी है।
यह भी पढ़ें

Supreme Court में Corona का विस्फोट, जस्टिस एमआर शाह का पूरा स्टाफ संक्रमित

अपने पत्र में उन्होंने आगे लिखा है कि राज्य में कोविड-19 के कारण स्थितियां बिगड़ती जा रही हैं। ऐसे में कोविड़ 19 को राष्ट्रीय महामारी घोषित करनी चाहिए और राज्य सरकार को प्रत्येक व्यस्क व्यक्ति को 100 रुपए प्रतिदिन तथा बच्चों को 60 रुपए प्रतिदिन के हिसाब से फंड देने की अनुमति मिलनी चाहिए। यह पैसा अन्त्योदय अन्न योजना तथा प्रायोरिटी हाउस होल्ड स्कीम्स के तहत राशन कार्ड्स में रजिस्टर्ड किए गए लोगों को दिया जाएगा। गत वर्ष पूरे देश में लगे लॉकडाउन और उसके बाद कोरोना के कारण चौपट हुए व्यापारों के चलते ये लोग भूखमरी और आर्थिक अभाव जैसी परिस्थितियों का सामना कर रहे हैं। यह पैसा स्टेट डिजास्टर रेस्पोंस फंड की तरफ से दिया जाना चाहिए। राहत फंड की पहली किस्त राज्य सरकार को जल्दी जारी की जानी चाहिए ताकि प्रभावित लोगों तक राहत पहुंच सके।
यह भी पढ़ें

Gujarat: कोरोना के रिकॉर्ड मामले आए सामने, श्मशानों में लगी लंबी कतारें, कब्रों की हो रही एडवांस खुदाई

अपने पत्र में ठाकरे ने लघु तथा मध्यमवर्गीय व्यापार, स्टार्ट्अप्स को विभिन्न सरकारी योजनाओं के तहत उनके द्वारा लिए गए बैंक लोन्स में राहत देनी चाहिए। उन्होंने कहा कि इन सभी ने देश को आत्मनिर्भर बनाने में अपना पूरा सहयोग दिया है। ऐसे में हमें भी इस कठिन घड़ी में उनका साथ देना चाहिए और उद्यमियों तथा बैंकों के बीच बढ़िया संबंध बनाने पर जोर देना चाहिए।
https://twitter.com/hashtag/COVID19?src=hash&ref_src=twsrc%5Etfw

ट्रेंडिंग वीडियो