महाराष्ट्र में बाढ़ और भूस्खलन से 112 की मौत, 99 गायब, सवा लाख से अधिक को सुरक्षित निकाला

महाराष्ट्र राज्य के राहत और पुनर्वास विभाग ने जानकारी देते हुए कहा कि भारी बारिश और भूस्खलन के चलते 112 लोगों तथा 3221 पशुओं की मृत्यु हो चुकी है, 53 लोग घायल हुए हैं और 99 अभी भी लापता हैं।

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में भारी वर्षा और भूस्खलन ने जबरदस्त तबाही मचाई है। राज्य में खेत, सड़क और घरों में पानी ही पानी है। सांगली और रायगढ़ जैसी क्षेत्रों में बाढ़ और भूस्खलन के चलते काफी ज्यादा नुकसान हुआ है। प्राकृतिक आपदाओं के चलते अब तक लगभग 112 लोगों की मृत्यु हो चुकी है जबकि 99 लापता बताए जा रहे हैं। सरकारी आंकड़ों के अनुसार अब तक लगभग एक लाख 35 हजार लोगों को बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों से सुरक्षित निकाल लिया गया है।

यह भी पढ़ें : Live Weather Report: यूपी-दिल्ली सहित कई राज्यों में भारी बारिश का अलर्ट, जानिए देश के मौसम का हाल

राज्य सरकार के राहत और पुनर्वास विभाग ने जानकारी देते हुए कहा कि भारी बारिश और भूस्खलन के चलते 112 लोगों तथा 3221 पशुओं की मृत्यु हो चुकी है, 53 लोग घायल हुए हैं और 99 अभी भी लापता हैं। विभाग के अनुसार शनिवार (24 जुलाई) की रात 9.30 बजे तक लगभग 1 लाख 35 हजार लोगो को बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों से सुरक्षित निकाल लिया गया है।

यह भी पढ़ें : सावन आज से शुरू, कोरोना महामारी के कारण इस बार भी हरिद्वार से जल नहीं ले पाएंगे कांवडि़ए

एनडीआरएफ ने जानकारी देते हुए कहा कि वर्तमान में 26 टीमें मुंबई, ठाणे, रत्नागिरी, पालघर, रायगढ़, सांगली, सिंधु दुर्ग तथा कोल्हापुर में बचाव कार्य कर रही हैं। राहत कार्यों में तेजी लाने के लिए इन टीमों के अलावा 8 अन्य टीमों को भी एयरलिफ्ट कर मौके पर पहुंचाया जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि पिछले कुछ दिनों से महाराष्ट्र में लगातार हो रही भारी बारिश के चलते कई स्थानों पर भूस्खलन के साथ-साथ बिल्डिंग ढहने की भी खबरें सामने आई हैं। इन घटनाओं में भी जान-माल का काफी नुकसान हुआ है। हालांकि समय रहते राहत कार्य शुरू करने से काफी लोगों को सफलतापूर्वक बचा लिया गया है। आम जनता के नुकसान को देखते हुए राज्य सरकार तथा केन्द्र सरकार ने भी मृतकों तथा घायलों के परिवारों को सहायता राशि देने की घोषणा की है।

सुनील शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned