कर्मचारियों के लिए Corona Vaccine खरीदने की योजना बना रहीं देश की कई कंपनियां, लिस्ट में ये नाम शामिल

  • भारत में कोरोना का काल बनकर आई वैक्सीन लगाने का राष्ट्रव्यापी अभियान शुरू हो चुका है
  • टीकाकरण अभियान के तहत देश में रोजाना लाखों लोगों को कोरोना का टीका लगाया जा रहा है

नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस ( Coronavirus in India ) का काल बनकर आई वैक्सीन ( Corona Vaccine ) लगाने का राष्ट्रव्यापी अभियान शुरू हो चुका है। टीकाकरण अभियान ( Corona Vaccination ) के तहत देश में रोजाना लाखों लोगों को कोरोना का टीका लगाया जा रहा है। हालांकि टीकाकरण के पहले चरण में स्वास्थ्य कर्मी और फ्रंटलाइन वर्कर्स को ही वैक्सीन लगाई जा रही हैं, जिसके बाद वैक्सीनेशन अभियान ( Vaccination campaign ) को विस्तार दिया जाएगा। इस बीच देश की कई नामचीन कंपनियों ने भी अपने कर्मचारियों को कोरोना वैक्सीन लगाने की तैयारी शुरू कर दी है। कई बड़ी कंपनियां अपने कर्मचारियों के लिए कोरोना वैक्सीन खरीदने की योजना बना रही हैं।

AIIMS Director डॉ. गुलेरिया बोले-डरें नहीं, कोरोना वैक्सीन आपको मारेगी नहीं

वैक्सीन निर्माता कंपनियों से संपर्क

इस क्रम में स्टील उत्पादक कंपनी जिंदली स्टील एंड पॉवर लिमिटेड, ऑटो-टू टेक्नोलॉजी महिंद्रा ग्रुप और कंज्यूमर गुड्स दिग्गज आईटीसी लिमिटेड ने इस उम्मीद पर तैयारी शुरू कर दी है कि सरकार के प्राथमिकता वाले सेगमेंट को कवर करने के बाद वैक्सीन खरीद के लिए उपलब्ध होगी। कॉर्पोरेट मानव संसाधन विभाग के प्रमुख अमिताव मुखर्जी ने कहा कि आईटीसी निश्चित रूप से अपने कर्मचारियों के लिए कोरोना वैकसीन को खरीदना चाहती है। इसके लिए वैक्सीन निर्माता कंपनियों से संपर्क किया गया है। आपको बता दें कि भारत में कोरोना की दो वैक्सीन ( कोविशिल्ड और कोवैक्सीन ) के आपात इस्तेमाल को मंजूरी मिली है।

Corona के बाद अब देश में Bird Flu की मार, जानिए गाजीपुर मंडी में 5 दिन के भीतर कितना नुकसान?

कोरोना वैक्सीन की बल्क सप्लाई के लिए कंपनियों से बातचीत

गौरतलब है कि भारतीय कंपनियां और फैक्ट्रियां लगभग साल भर लंबे लॉकडाउन से अभी-अभी उबरना शुरू हुई हैं। कोरोबार के लिहाज से पिछला साल कंपनियों और कर्मचारियों के लिए काफी संकट भरा रहा है। इस संकट में जहां लाखों लोगों को अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ा, वहीं लाखों की तदाद में लोग सैकड़ों मील पैदल चलकर शहरों से अपने गांवों की ओर चल निकले। जेएसपीएल के चीफ ह्यूमन रिसोर्स ऑफिसर पंकज लोचन ने बताया कि हम कोरोना वैक्सीन निर्माताओं से संपर्क बनाए हुए हैं। स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंट लाइन वर्कर्स के लिए चलाए जा रहे अभियान के बाद कोरोना वैक्सीन की बल्क सप्लाई के लिए कंपनियों से बातचीत का सिलसिला जारी है। हालांकि कंपनियों ने वैक्सीन की कितनी डोज खरीदने की योजना बनाई है, इसको लेकर अभी तक कोई अधिकारिक बयान नहीं आया है।

सावधान: टीका लगवाकर की ये गलतियां तो खतरनाक हो सकता है कोरोना का हमला

भारत कोरोना वायरस से सर्वाधिक संक्रमित देशों में से एक

आपको बता दें कि भारत कोरोना वायरस से सर्वाधिक संक्रमित देशों में से एक रहा है। कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या की सूची में भारत अमरीका के बाद दूसरा स्थान रखता है। महिन्द्रा ग्रुप के अनुंसार कंपनी अपने कर्मचारियों के लिए कोरोना वैक्सीन खरीदने की प्लानिंग कर रही है। ग्लोबल कंज्यूमर गुड्स गेंट यूनीलिवर ने पिछले हफ्ते बताया कि कंपनी अपने कर्मचारियों को कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित कर रही है। इसके साथ ही वैक्सीन को खरीदने की दिशा में भी प्रयास जारी है।

Show More
Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned