मुंबई में 4 मंजिला इमारत गिरी, 10 लोगों की मौत, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

मुंबई में 4 मंजिला इमारत गिरी, 10 लोगों की मौत, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

  • Mumbai building collapse: डोंगरी में 4 मंजिला इमारत गिरी
  • मलबे में 50 से ज्यादा लोगों के दबे होने की आशंका
  • रात में राहत और बचाव कार्य जारी

नई दिल्ली। मुंबई के डोंगरी इलाके में बड़ा हादसा हो गया। यहां एक 4 मंजिला इमारत गिर ( mumbai building collapse ) गई है। टंडेल स्ट्रीट स्थित 'केसरबाई' नाम की यह इमारत काफी पुरानी और जर्जर थी। इसमें अभी तक 10 लोगों की मौत हो गई है। जबकि 8 लोग घायल हैं। अब भी बिल्डिंग के मलबे में कई लोगों के दबे होने की आशंका है। रात में भी राहत और बचाव कार्य जारी है।

 

मुंबई हादसे पर पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह ने दुख जताया है। पीएम मोदी ने कहा कि पीड़ित परिवारों के साथ मेरी संवेदनाएं हैं। सरकार पीड़ितों को पूरी मदद करेगी।

 

वहीं, महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस ने कहा 15 परिवारों के फंसे होने की जानकारी है, यह भवन लगभग 100 वर्ष पुराना है। पूरा ध्यान फंसे हुए लोगों को बचाने पर है। हादसे की जांच के आदेश दे दिए गए हैं।

इस हादसे ( Mumbai building collapse ) की सूचना मिलते ही राहत एवं बचाव दल मौके पर पहुंच गया है। दमकलकर्मी के अलावा एंबुलेंस और NDRF की टीमें भी घटनास्‍थल पर पहुंचकर रेस्क्यू ऑपरेशन में जुट गई हैं। तंग गली होने की वजह से रेस्क्यू ऑपरेशन में बाधा पहुंच रही है।

असम बाढ़: 2400 करोड़ की झोपडिय़ां और करोड़ों के मवेशी, 22 लाख परिवार बर्बाद

वहीं, मुंबई पुलिस कमिश्नर संजय बर्वे और डीसीपी जोन-1 अभिषेक त्रिमुखे ने मौके पर पहुंच घटना का जायजा लिया। उन्होंने यहां पर एनडीआरएफ और आसपास के लोगों से घटना की जानकारी ली।

बीएमसी ने इस इमारत ( Mumbai building collapse ) को खतरनाक घोषित कर रखा था। बताया जा रहा है कि सुबह 11 बजकर 40 मिनट की ये घटना है। जब अचानक बिल्डिंग भरभराकर नीचे आ गिरी। बिल्डिंग गिरने की वजह लगातार हो रही बारिश को माना जा रहा हैं।

बाढ़ से बदहाल: 5 राज्यों में 70 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित, 40 से ज्यादा की मौत

NDRF के अनुसार हादसा एक संकरी गली में मौजूद बिल्डिंग ( Mumbai building collapse ) में हुआ, जिसकी वजह से वजह से राहत व बचाव कार्य करने में बाधा आ रही है। हालांकि, कई टीमों को बचाव कार्य में लगाया गया है। इसके साथ ही एहतियात बरतते हुए आसपास की इमारतों को भी खाली करा लिया गया है।

कश्मीर: दिल्ली पुलिस के हाथ बड़ी सफलता, श्रीनगर से जैश आतंकी बशीर अहमद गिरफ्तार

 

प्रत्यक्षदर्शियों की मानें तो यह इमारत 80 से 100 साल पुरानी है। इमारत में 8 से 10 परिवार रहते हैं। हादसे के समय इसमे 40 से 50 लोग मौजूद थे। गौरतलब है कि मुंबई में पिछले कई दिनों से लगातार भारी बारिश हो रही है। बारिश से मुंबई के कई इलाके डूबने की कगार पर हैं। ऐसे में लगातार बरस रहे पानी से अब इमारतें भी खतरे की जद में आ गई हैं।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned