ओडिशाः सेप्टिक टैंक में गिरी महिला को बचाने में गई पांच की जान, एक घायल

ओडिशाः सेप्टिक टैंक में गिरी महिला को बचाने में गई पांच की जान, एक घायल

सेप्टिक टैंक में गिरी एक महिला कर्मचारी को बचाने के लिए पीड़ित सेप्टिक टैंक में गए थे। इस दौरान सभी टैंक के अंदर गिरकर बेहोश हो गए।

भुवनेश्वर। ओडिशा के रायगड़ा जिले में रविवार को एक सेप्टिक टैंक के अंदर दम घुटने से पांच लोगों की मौत हो गई। पुलिस ने कहा कि यह घटना दुर्गी गांव के पाइका साही में हुई। सेप्टिक टैंक में गिरी एक महिला कर्मचारी को बचाने के लिए पीड़ित सेप्टिक टैंक में गए थे। इस दौरान सभी टैंक के अंदर गिरकर बेहोश हो गए।

यह भी पढ़ें: प्रेमी के चक्कर में मां ने अपने दो बच्चों को दूध में दिया जहर, घर से भागने की कर रही थी कोशिश

एक मजदूर की हालत अभी भी गंभीर

गांव वालों ने उन्हें सेप्टिक टैंक से बाहर निकाला और अस्पताल ले गए, जहां महिला कर्मचारी सहित पांच को मृत घोषित कर दिया गया जबकि एक मजदूर की हालत गंभीर है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक सबसे पहले महिला कर्मचारी सेप्टिक टैंक में फंसी थी, जिसके बाद ये सभी लोग उसे बचाने की जद्दोजहद में अंदर उतरे थे।

यह भी पढ़ेंः भीमा कोरेगांव केस: चार्जशीट दायर करने के लिए पुणे पुलिस को सेशंस कोर्ट से 90 दिनों की मोहलत

आनन-फानन में अस्पताल ले गए गांव वाले

रेस्क्यू की कोशिश के दौरान एक-एक करके सभी बेहोश हो गए। इसके बाद गांव वालों ने सभी को सेप्टिक टैंक से बाहर निकाला और उन्होंने आनन-फानन में अस्पताल ले गए। अस्पताल पहुंचने पर डॉक्टर ने महिला समेत पांच को मृत घोषित कर दिया, वहीं एक की हालत अभी भी गंभीर बताई जा रही है।

यह भी पढ़ेंः पूर्व भाजपा सांसद रामविलास वेदांति का बयान, 2019 से पहले शुरू होगा राम मंदिर का निर्माण

पहले भी होते रहे हैं ऐसे हादसे

सेप्टिक टैंक में दम घुटने के चलते इससे पहले भी कई लोगों की जान जा चुकी है। इस तरह के टैंक में विषैली गैसों का अत्यधिक दबाव होता है, जिसके चलते दम घुट जाता है। आमतौर पर जान जाने की वजह सुरक्षा नियमों का पालन नहीं करना भी होता है।

Ad Block is Banned