अयोध्या के एक टीचर के परिवार के लिए उमर अब्दुल्ला ने लगाई गुहार, कहा- ऑक्सीजन ढूंढने में करो मदद

जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने अयोध्या में कोरोना संक्रमित एक स्कूली शिक्षक के परिवार के लिए ऑक्सीजन मुहैया कराने के लिए मदद की गुहार लगाई है।

नई दिल्ली। कोरोना संकट से जूझ रहे पूरे देश में हाहाकार मचा है। कई राज्यों के अस्पतालों में ऑक्सीजन और बेड की कमी की वजह से लोग परेशान हैं, तो वहीं देशभर में अब तक 100 से अधिक मरीजों की ऑक्सीजन की कमी की वजह से जान चली गई है। ऐसे में ऑक्सीजन को लेकर चारों तरफ से मदद की गुहार लगाई जा रही है।

इसी कड़ी में जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने अयोध्या में कोरोना संक्रमित एक स्कूली शिक्षक के परिवार के लिए ऑक्सीजन मुहैया कराने के लिए मदद की गुहार लगाई है। अब्दुल्ला ने एक के बाद एक कई ट्वीट करते हुए ऑक्सीजन उपलब्ध कराए जाने की अपील की है।

यह भी पढ़ें :- रवीना टंडन ने कोरोना पीड़ितों के लिए मुहैया कराए 300 ऑक्सीजन सिलेंडर्स, अस्पतालों पर उतारा गुस्सा

अब्दुल्ला ने अपने ट्वीट में 52 वर्षीय आनंद पांडे के परिवार का एक संदेश साझा किया है जिसमें उनके लिए ऑक्सीजन और अस्पताल में एक बिस्तर ढूंढने के लिए मदद मांगी गई है।

इधर, राज्य के तमाम अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी देखने को मिली है। फैजाबाद के भाजपा सांसद लल्लू सिंह ने भी माना कि अयोध्या जिले में ऑक्सीजन की कमी है। ‘डिस्ट्रिक्ट वुमेन्स हॉस्पिटल’ ने ऑक्सीजन की कमी के कारण मरीजों को भर्ती करने से रोक दिया है। वहीं, अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक (सीएमएस) डॉ. एसके शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया है कि ऑक्सीजन की कमी की वजह से अस्पताल में तीन मरीजों की मौत हो गई है।

इस नंबर पर कर सकते हैं संपर्क

जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने सोमवार को ट्वीट करते हुए कहा कि वे संदेश को आगे बढ़ा रहे हैं: "आदरणीय सर, अयोध्या में मरीज के लिए ऑक्सीजन सिलेंडर और बिस्तर दिलाने में कृपया मदद कीजिए। मरीज का नाम आनंद पांडे, उम्र 52 साल है। घर का पता अयोध्या का है। ऑक्सीजन स्तर: 70 है। 8115013333 नंबर पर हर्षित जैन से संपर्क करें।’’

यह भी पढ़ें :- Oxygen लंगर ने अब तक बचाई 4 हजार लोगों की जान, जरूरतमंदों के लिए साबित हो रहा वरदान

आनंद पांडे के दामाद पुनीत ने बताया कि उनके ससुर कोविड-19 से संक्रमित पाए गए हैं और उनका ऑक्सीजन स्तर बहुत कम है। पुनीत ने कहा "हमने अयोध्या में मेडिकल कॉलेज और सरकारी अस्पतालों से संपर्क किया लेकिन इन संस्थानों में ऑक्सीजन की कोई व्यवस्था नहीं है। हमने जनप्रतिनिधियों और प्रशासनिक अधिकारियों से भी बात की लेकिन किसी से कोई मदद नहीं मिली। उन्होंने कहा कि हमें उचित इलाज नहीं मिल रहा है। मैं नेताओं से ऑक्सीजन के लिए लगातार मिन्नतें कर रहा हूं लेकिन मुझे खाली हाथ लौटना पड़ता है।’’ बता दें कि इसके अलावा भी कई अन्य लोगों के लिए अब्दुल्ला ने ऑक्सीजन मुहैया कराने में मदद की अपील की है।

कोरोना वायरस
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned