पहला विश्व मोबिलिटी शिखर सम्मेलन शुरू, पीएम मोदी ने दिया विकास का 7C फॉर्मूला

पहला विश्व मोबिलिटी शिखर सम्मेलन शुरू, पीएम मोदी ने दिया विकास का 7C फॉर्मूला

Dhiraj Kumar Sharma | Publish: Sep, 07 2018 01:27:49 PM (IST) | Updated: Sep, 07 2018 01:31:49 PM (IST) इंडिया की अन्‍य खबरें

पीएम मोदी ने किया पहले ग्लोबल मोबिलिटी समिट का उद्घाटन, 7C फॉर्मूले से समझाया गतिशीलता का भविष्य

नई दिल्ली। देश में आज से पहला विश्व मोबिलिटी शिखर सम्मेलन 'मूव' का आगाज हो गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली के विज्ञान भवन में इस सम्मेलन का उद्घाटन किया। 8 सितंबर तक चलने वाले इस सम्मेलन का आयोजन नीति आयोग की तरफ से किया जा रहा है। इस मौक पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि परिवहन की बेहतर व्यवस्था नई नौकरियां और बेहतर इंफास्ट्रक्चर को तो लेकर आता ही है साथ ही लोगों की जिंदगी को भी बेहतर करने का काम करता है।

जम्मू-कश्मीरः वैद की छुट्टी पर चढ़ा सियासी पारा, उमर अब्दुल्ला ने जल्दबाजी पर उठाए सवाल

पीएम मोदी ने एक बार फिर सरकार की पीठ थपथपाई। उन्होंने कहा कि हमारी अर्थव्यवस्था आगे बढ़ रही है, हालांकि उन्होंने सीधे नोटबंदी या जीएसटी का नाम लिया लेकिन, इशारों-इशारों में अर्थव्यवस्था के सुधार में इन्हें वजह बताया। उन्होंने कहा हम दुनिया में तेजी से तरक्की करने वाले देश हैं, हमारे शहर और कस्बें 'मूव' कर रहे हैं।पीएम मोदी ने यहां कहा कि हम 100 स्मार्ट शहरों का निर्माण कर रहे हैं। हमारा बुनियादी ढांचा बढ़ रहा है। हम तेजी से सड़कों, हवाई अड्डों, रेल लाइनों और बंदरगाहों बना रहे हैं।

 

पीएम मोदी ने दिया 7C फॉर्मूला
पीएम मोदी ने कहा कि भारत में गतिशीलता का भविष्य सात सी (7C) पर निर्भर करेगा। इसमें कॉमन (आम आदमी), कनेक्टेड (जुड़ाव), कन्वेनिएंट (सुविधाजनक), कंजेशन-फ्री (बाधा रहित), चार्ज, क्लीन (साफ) और कटिंग-एज (विकास के नए तरीके)।

सम्मेलन में चर्चा के मुख्य विषय, विद्युतीकरण और वैकल्पिक ईंधन, सार्वजनिक परिवहन, माल ढुलाई परिवहन और लॉजिस्टिक्स और डाटा विश्लेषण और मोबिलिटी हैं। सम्मेलन में नीति आयोग के अफसरों के अलावा अरुण जेटली, नितिन गडकरी और रवि शंकर प्रसाद सहित कई केंद्रीय मंत्रियों पहुंचे हैं। इससे पहले नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने इस संबंध में आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि भारत को मोबिलिटी के लिए एकीकृत सम्मिलित नीति रूपरेखा बनाने की जरूरत है।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned