Pulwama Part-2 : आतंकी साजिश नाकाम,  NSA डोभाल ने पीएम मोदी को दी डिटेल जानकारी

  • NSA अजित डोभाल ने पीएम मोदी से मिलकर घटना की विस्तृत जानकारी दी।
  • सेना-पुलिस और सीआरपीएफ ने खतरे को भापंते हुए IED से लदे वाहन को उड़ा दिया।
  • Security Forces ने समय रहते आतंकी साजिश को नाकाम कर दिया, पर कई सवाल उठ खड़े हुए हैं।

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर ( Jammu-Kashmir ) में पुलवामा पार्ट-2 ( Pulwama Part-2 ) आतंकी साजिश को सुरक्षाबलों ने समय रहते नाकाम कर दिया। माना जा रहा है कि आतंकियों ( Terrorists ) की योजना पुलवामा में आईईडी ( IED ) के जरिए जवानों पर हमला करने की थी। साजिश नाकाम होने के तत्काल बाद राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल ( NSA Ajit Doval ) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( PM Narendra Modi ) से मिले और उन्हें इस घटना की डिटेल जानकारी दी।

अजित डोभाल ने पीएम नरेंद्र मोदी को बताया कि सुरक्षाबलों ( Security Forces )ने पुलवामा (Pulwama) के आइनगुंड इलाके में एक सैंट्रो कार में ले जा रही आईईडी को बरामद किया। इस वाहन में यह आईईडी मिली। वाहन के नंबर प्लेट पर कठुआ का नंबर लिखा हुआ था। कार में विस्फोटक इतनी भारी मात्रा में लदा था कि सुरक्षाबलों को उसे उड़ाना पड़ा।

जिस आईईडी से लदे वाहन को सुरक्षाबलों ने उड़ा दिया उस पर जेके-08 1426 नंबर की प्लेट लगी है जो कठुआ (Kathua ) का नंबर है। जम्मू संभाग का कठुआ इलाका सीमांत क्षेत्र है। यहां के हीरानगर इलाके को पाकिस्तानी घुसपैठ के लिहाज से बेहद संवेदनशील माना जाता है। ऐसे में इस कार में विस्फोटकों के मिलने के पीछे पाकिस्तानी साजिश ( Pakistani Conspiracy ) का शक भी जताया जा रहा है।

पुलवामा में बड़ी आतंकी साजिश नाकाम, विस्फोटक से भरी कार को सुरक्षाबल जवानों ने उड़ाया

सेना-पुलिस और सीआरपीएफ ( Army-Police-CRPF ) ने साजिश को डिफ्यूज कर धमाके को तो रोक दिया लेकिन इस घटना के बाद कई सवाल उठ खड़े हुए हैं। क्या फिर से पुललामा में सुरक्षा बलों के खिलाफ साजिश ( Conspiracy ) रची जा रही थी। विस्फोटकों से लदी कार पर टू व्हीलर की नंबर प्लेट लगी थी। तो क्या आतंकी संगठन पुलवामा पार्ट- 2 की योजना बना रहे थे।

फिलहाल सुरक्षाबलों ने समय रहते धमाके की साजिश में सेंध लगा दी। लेकिन इस साजिश की तह तक पहुंचना अभी बाकी है। बताया जा रहा है कि गाड़ी को हिज्बुल मुजाहिद्दीन ( Hizbul Mujahiddin) का एक आतंकी चला रहा था, जो कि शुरुआती गोलीबारी के बाद मौके से फरार होने में कामयाब रहा।

Covid-19 : आज भारत तोड़ेगा चीन की मौत का रिकॉर्ड

बता दें कि 14 फरवरी, 2019 को पुलवामा ( Pulwama ) में ही एक आत्मघाती हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे। पुलवामा आतंकी हमले का बदला लेने के लिए भारतीय वायुसेना ने बालाकोट में हवाई हमला कर आतंकी संगठन जैश के ठिकानों को ध्वस्त कर दिया था।

Pulwama
Show More
Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned