Farmer Protest: कृषि कानूनों का विरोध, देश के बड़े अफसर ने दिया इस्तीफा

  • कृषि कानूनों को लेकर किसानों का विरोध प्रदर्शन जारी
  • पंजाब के डीआईजी लखमिंदर सिंह जाखड़ ने दिया इस्तीफा

नई दिल्ली। नए कृषि कानूनों को लेकर सरकार और किसानों के बीच का गतिरोध ( Protest Against agricultural laws ) बढ़ता नजर आ रहा है। पिछले 18 दिनों से दिल्ली के आसपास डेरा डाले बैठे किसानों ने अब मांगें पूरी न होने पर भूख हड़ताल ( hunger strike ) की घोषणा की है। किसान संगठनों के अनुसार अब दिल्ली की सड़कों पर उतरा अन्नदाता 14 दिसंबर को भूख हड़ताल करेगा। इस बीच पंजाब से बड़ी खबर सामने आई है। यहां राज्य के डीआईजी (जेल) लखमिंदर सिंह जाखड़ ( Punjab DIG (Jail) Lakhminder Singh Jakhar ) ने किसान आंदोलन के समर्थन में अपना इस्तीफा दे दिया है। इस दौरान DIG ने कहा कि वह कृषि कानून और किसानों के पक्ष में अपने सरकारी सेवाओं से इस्तीफा दे रहे हैं।

48 घंटे में निकल सकता है किसान आंदोलन का समाधान, जानें केंद्र सरकार ने उठाया क्या कदम?

लखमिंदर जाखड़ ने आगे जानकारी देते हुए कहा कि उन्होंने अपना इस्तीफा राज्य सरकार को भेज दिया है।
इसके साथ ही पंजाब के कई अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों ने कृषि कानूनों का विरोध किया है। पंजाबी कवि सुरजीत पातर समेत इनमें से कई खिलाड़ियों किसान आंदोलन क अपने पुरस्कार सरकार को वापस लौटाने की भी घोषणा की है। आपको बता दें कि कृषि कानूनों के विरोध में उत्तर प्रदेश, पंजाब और हरियाणा के हजारों किसान सड़कों पर उतर आए हैं। इन किसानों ने राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में प्रवेश के कई मार्ग ब्लॉक कर दिए हैं। इन किसानों की मांग है कि इन कृषि कानूनों को वापस लिया जाए। इसके साथ न्यूनत समर्थन मूल्य को लेकर एक कानून बनाया जाए।

ठंड ने थामी जिंदगी की रफ्तार: कोहरे की वजह से कई ट्रेन रद्द, कइयों का समय बदला

वहीं, केंद्र सरकार ने साफ कर दिया है कि इन कानूनों में संशोधन तो किया जा सकता है, लेकिन पूरी तरह से वापस नहीं लिया जा सकता। सरकार के इस अडियल रुख से गुस्साए किसानों ने अब दिल्ली से वापस न जाने का फैसला किया है। किसान संगठनों ने ऐलान किया है कि कृषि कानूनों की वापसी के साथ ही किसान अपने घरों को वापसी करेंगे। अगर ऐसा नहीं होता तो दिल्ली में डेरा जमाया जाएगा।

Show More
Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned