scriptप्रिंस हैरी ने नहीं निभाया शादी का वादा तो पंजाब कोर्ट पहुंची महिला, जानिए फिर क्या हुआ | Punjab High Court Dismiss plea to take action against Prince Harry for do not Marrying woman lawyer | Patrika News

प्रिंस हैरी ने नहीं निभाया शादी का वादा तो पंजाब कोर्ट पहुंची महिला, जानिए फिर क्या हुआ

Published: Apr 13, 2021 03:12:04 pm

महिला का आरोप, शादी से मुकरे प्रिंस हैरी के खिलाफ जारी किया जाए वारंट, पंजाब कोर्ट ने दिया दिलचस्प जवाब

Prince Harry

प्रिंस हैरी ने नहीं की शादी तो हाईकोर्ट पहुंची महिला, कोर्ट ने दिया दिलचस्प जवाब

नई दिल्ली। पंजाब हाईकोर्ट ( Punjab High Court ) में एक महिला वकील ने ऐसी याचिका दाखिल की, जिस पर सुनवाई करते समय जज भी चौंक गए। महिला वकील पलविंदर कौर ने अपनी याचिका में दावा करते हुए आरोप लगाया है कि प्रिंस हैरी ( Prince Harry ) ने उनसे शादी करने का वादा किया था, लेकिन उसे पूरा नहीं किया।
महिला याचिकाकर्ता ने कोर्ट से प्रिंस हैरी के खिलाफ कानूनी एक्शन की मांग की। याचिका में प्रिंस के खिलाफ अरेस्ट वॉरंट जारी करने को भी कहा गया ताकि शादी में कोई देरी न हो। आइए जानते हैं हाई कोर्ट ने मामले को लेकर क्या किया।
यह भी पढ़ेंः कुरान की 26 आयतें हटाने वाली याचिका खारिज, सुप्रीम कोर्ट ने अर्जी देने वाले पर ही लगा दिया

महिला याचिकाकर्ता ने आरोप लगाते हुए कहा कि प्रिंस हैरी ने उससे शादी का वादा किया था, जो अभी तक पूरा नहीं किया। इसके साथ ही याचिका दाखिल करके वाली महिला ने प्रिंस हैरी के खिलाफ वारंट जारी करने की मांग की।
वर्चुअल सुनवाई हुई
महिला वकिल की इस अजीब याचिका पर जस्टिस अनिल सिंह सांगवान की अध्यक्षता में वर्चुअल सुनवाई की गई। लेकिन याचिकाकर्ता ने मांग की कि इस मामले की कोर्ट में वास्तविक तौर पर सुनवाई हो।
महिला वकील की इस याचिका को व्यक्तिगतरूप से सुना और फैसला सुनाया।
कोर्ट ने कहा कि, मुझे नहीं लगता इस याचिका का कोई मतलब है। यह याचिका बस प्रिंस हैरी से एक दिन के शादी करने के सपने देखने जैसा है।

कोर्ट ने कहा कि इस बात की संभावना है कि आपके प्रिंस हैरी अपने सुनहरे भविष्य के लिए पंजाब के किसी गांव के साइबर कैफे में बैठे हों। कोर्ट ने मामले की सुनवाई के दौरान कहा कि ये अर्जी दिन में देखे गए सपने से कम नहीं है।
कोर्ट ने ये भी कहा कि इस याचिका को बहुत बुरे तरीके से तैयार किया गया है। इसमें कई मात्रात्मक गलतियां भी हैं।

कोर्ट ने इस मामले पर सुनवाई करते हुए इसे ‘आधारहीन’ बताया। अदालत ने कहा कि- सभी जानते हैं सोशल मीडिया जैसे फेसबुक, ट्विटर और अन्य ऑनलाइन साइट्स पर फेक आईडी बनाकर लोगों से बातचीत की जाती है। सोशल साइट पर हुई बातचीत को कोर्ट प्रमाणिकता नहीं दे सकता।
वहीं लोगों का मानना है कि महिला ने सिर्फ पब्लिसिटी के लिए इस तरह की याचिका दायर की। प्रिंस हैरी के नाम की वजह से वो सुर्खियों में आ गई।

आपको बता दें कि याचिकाकर्ता ने अपनी अर्जी में कुछ ईमेल का जिक्र भी किया, जो कथित तौर पर उसे प्रिंस हैरी के नाम से भेजे गए थे। कोर्ट ने कहा वो इस मामले पर सिर्फ अपनी सहानुभूति जता सकती है।
यह भी पढ़ेंः वैक्सीन, रेमडेसिविर के बाद अब इस कमी ने बढ़ाई चिंता, मुंबई के एक अस्पताल में 7 लोगों की मौत

इस वर्ष प्रिंस हैरी ने रचाई थी शादी
आपको बता दें कि ब्रिटेन के राजशाही परिवार से ताल्लुक रखने वाले प्रिंस हैरी की शादी वर्ष 2018 में हुई। वे मेगन मर्केल से शादी के बंधन में बंधे। मेगन अभिनेत्री रह चुकीं हैं। साल 2019 में इस जोड़े ने एक बेटे को जन्म दिया। उनके बेटे का नाम आर्ची है।
loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो