यात्री ट्रेन शुरू होने से पहले बड़ी खबर, रेल भवन में वरिष्ठ अधिकारी की कोरोना रिपोर्ट आई पॉजिटिव

  • Rail Bhawan में Senior Officer का Covid-19 Test आया Positive
  • संपर्क में आए अन्य अधिकारियों को 14 दिन Home Quarantine में भेजा
  • कोरोना रोगी ने 13 मई तक रेल भवन में किया काम

नई दिल्ली। देशभर में कोरोना वायरस ( Coronavirus ) का खतरा लगातार बढ़ता जा रहा है। देशभर में अब तक कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या 1 लाख 18 हजार के पार पहुंच चुकी है। लॉकडाउन-4 ( Lockdown ) में सरकार ने यात्री ट्रेनों ( Passanger Train ) को भी चलाने की मंजूरी दे दी है। लेकिन इस बीच रेल भवन ( Rail Bhawan )से डराने वाली खबर सामने आई है। दरअसल रेलभवन में वरिष्ठ अधिकारी कोविड-19 ( COVID-19 ) रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

रेल भवन, जो भारतीय रेलवे का मुख्यालय है, यहां वरिष्ठ अधिकारी के कोरोना पॉजिटिव आने से लोगों में डर माहौल बना हुआ है।

लॉकडाउन-4 के बीच सोनिया गांधी ने मोदी सरकार पर बोला तीखा हमला, सरकार का आत्मनिर्भर पैकेज मजाक साबित हुआ

रोगी, भारतीय रेलवे कार्मिक सेवा के एक अधिकारी हैं। आपको बता दें कि वरिष्ठ अधिकारी ने 13 मई तक रेल भवन में काम किया था।

कोरोना पॉजिटिव आईं रेलवे अधिकारी का काम आमतौर पर सचिव शाखा के लोगों के साथ व्यवहार करना है। संयुक्त सचिव रैंक के अधिकारी जो रोगी के अधिकारी हैं उन्हें भी भी तत्काल 27 मई तक 14 दिनों के लिए होम क्वारंटीन की सलाह दी गई है।

इसके साथ ही उनके अधीनस्त अधिकारियों को भी एहतियात के तौर पर घर में रहने के लिए कहा गया है।

सूत्रों के मुताबिक वर्तमान में कोरोना से पीड़ित रेलवे अधिकारी रेलवे सुरक्षा बल सेवा के पुनर्गठन मामले पर काम कर रही थीं। ये अधिकारी कॉमनवेल्थ गेम्स विलेज अपार्टमेंट में रहती है, जिसमें विभिन्न सेवाओं के सभी रैंकों के शीर्ष अधिकारी रहते हैं।

लॉकडाउन-4 में बिना मास्क घरों से बाहर निकले लोग, पुलिस ने वसूला 59800 का जुर्माना

रेल भवन की चौथी मंजिल पर आरपीएफ विंग के शीर्ष कार्यालय में कार्यरत एक अधिकारी ने इस महीने के शुरू में कोविड-19 की पुष्टि की थी। इस कर्मी इमारतों से बंदरों को भगाने का काम करता था। इसके साथ ही लंगूर भगाने वाले व्यक्ति के संपर्क में आने पर एक अन्य अधिकारी में कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।

रेल भवन में सकारात्मक केस सामने आने के बाद पिछले हफ्ते ही दो दिन तक सैनिटाइज किया गया था। अधिकारियों ने कहा है कि कामकाजी जगहों पर अब सोशल डिस्टेंसिंग, फेस मास्क और हैंड सैनिटाइजेशन जैसे नियमों का सख्ती से पालन करवाया जा रहा है। इससे अन्य साथियों में कोरोना के फैलाव का खतरा कम रहता है।

COVID-19
धीरज शर्मा Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned