अश्लील फिल्में बनाने के आरोप में गिरफ्तार राज कुंद्रा की बढ़ी मुश्किलें, कोर्ट ने 23 जुलाई तक पुलिस रिमांड में भेजा

अश्लील फिल्में बनाने और कुछ ऐप के जरिए इन्हें दिखाने के मामले में सोमवार रात गिरफ्तार अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी के पति और मशहूर बिजनेसमैन राज कुंद्रा को मंगलवार को कोर्ट ने 23 जुलाई तक पुलिस रिमांड में भेज दिया है।

नई दिल्ली। अश्लील फिल्में बनाकर कुछ ऐप्स पर दिखाने के आरोप में गिरफ्तार अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी के पति और बिजनेसमैन राज कुंद्रा की मुश्किलें बढ़ने सकती है। मंगलवार को कोर्ट ने राज कुंद्रा को 23 जुलाई तक पुलिस रिमांड में भेज दिया है। सोमवार रात को ग‍िरफ्तारी के बाद मंगलवार को राज कुंद्रा को कोर्ट में पेश किया था।

मुंबई क्राइम ब्रांच की प्रॉपर्टी सेल ने अश्लील फिल्में बनाने और कुछ ऐप के जरिए इन्हें दिखाने के मामले में सोमवार रात को गिरफ्तार क‍िया था। सुनवाई के दौरान प्रॉपर्टी सेल ने कोर्ट को बताया कि राज कुंद्रा इस पूरे गोरखधंधे से पैसे कमा रहे थे। इस मामले में कुंद्रा के खिलाफ पर्याप्त सबूत हैं।

यह भी पढ़ें :- मुंबई क्राइम ब्रांच ने अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी के पति राज कुंद्रा को किया गिरफ्तार, अश्लील फिल्में बनाने का आरोप

क्राइम ब्रांच ने कोर्ट को बताया कि Vian नाम की कंपनी में प्रॉपर्टी सेल को काफी फॉरेन करेंसी मिले है। राज कुंद्रा का फोन सीज किया गया है और इसकी जांच की जरूरत है। पुलिस ने कोर्ट से आगे की जांच के लिए राज कुंद्रा की र‍िमांड मांगी, जिसके बाद अदालत ने 23 जुलाई तक कुंद्रा को पुलिस र‍िमांड पर भेज द‍िया। बता दें कि क्राइम ब्रांच ने इस केस के सिलसिले में राज कुंद्रा के बाद रेयान जॉन नाम के एक और शख्स को नवी मुंबई से गिरफ्तार किया है।

कुंद्रा के वकील ने जताया एतराज

कोर्ट में सुनवाई के दौरान जब पुलिस ने अदालत से राज कुंद्रा और रेयान जॉन को हिरासत में लिए जाने की मांग की तो कुंद्रा के वकील Abaad Ponda ने एतराज जताया और तर्क दिया कि कुंद्रा की हिरासत की मांग "अवैध" है।

यह भी पढ़ें :- 50 करोड़ के अपार्टमेंट से लेकर 3 करोड़ की डायमंड रिंग तक, राज कुंद्रा के पत्नी शिल्पा शेट्टी के लिए मंहगे तोहफे

Abaad Ponda ने तर्क दिया कि पुलिस ने कुंद्रा का बयान दर्ज करने से पहले सेक्शन 41 के तहत समन नहीं भेजा और कुंद्रा को अपना पक्ष रखने का मौका दिए बिना ही गिरफ्तार कर लिया गया। मालूम हो कि क्राइम ब्रांच ने सेक्शन 420 और 67-ए के तहत कुंद्रा के खिलाफ मामला दर्ज किया है। ये दोनों दोनों धाराएं गैर-जमानती हैं और इसमें क्रमशः 7 साल और 5 साल की जेल की सजा का प्रावधान है।

बता दें कि मंगलवार सुबह 4:00 बजे राज कुंद्रा को क्राइम ब्रांच दफ्तर से मुंबई के जेजे अस्पताल मेडिकल जांच के लिए लाया गया। इसके बाद सुबह 4.15 को कुंद्रा को जेजे अस्पताल से मुंबई कमिश्नर पुलिस के ऑफिस लाया गया।

राज कुंद्रा के फोन की होगी फोरेंसिक जांच

जानकारी के मुताबिक, राज कुंद्रा के फोन को फोरेंसिक जांच के लिए भेजा जाएगा। चूंकि पुलिस ने कहा है कि कुंद्रा के फोन में काफी सबूत हैं और इसकी जांच जरूरी है। अभी तक की जांच में पुलिस के पता चला है कि कुंद्रा एक व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़े थे।

यह भी पढ़ें :- फिल्मों में काम दिलाने के बहाने राज कुन्द्रा करते थे ये गंदा खेल, बंगले में होती थी अश्लील वीडियो की शूटिंग!

इस व्हाट्सऐप ग्रुप में अश्लील फिल्मों के कारोबार को लेकर चर्चा की जाती थी। ये व्हाट्सएप ग्रुप H अकाउंट के नाम से बनाया गया था, जिसमें कुल पांच लोग जुड़े थे. इसमें मार्केटिंग, सेल्स से लेकर मॉडल्स के पेमेंट को लेकर चर्चाएं होती थी।

हो सकती है लंबी सजा

आपको बता दें कि यदि पोर्नोग्राफी केस में राज कुंद्रा दोषी पाए जाते हैं तो उन्हें लंबी सजा हो सकती है। पोर्नोग्राफी को लेकर मोदी सरकार में एक नया और सख्त कानून बनाया गया है। नए कानून में पोर्नोग्राफी के मामले में आईटी एक्ट के साथ ही आईपीसी की कई धाराओं के तहत आरोपी के खिलाफ मामला बनता है।

Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned