अगर आप भी हैं PF खाता धारक तो जरूर पढ़ लें यह खबर, EPFO ने कर दिया बड़ा ऐलान

  • EPFO ने लगभग छह करोड़ PF अकाउंट होल्डर्स को उनके प्रोविडेंट फंड के लिए ब्याज तय कर दिया है
  • EPFO के ट्रस्टी बोर्ड की बैठक में मौजूदा वित्त वर्ष के लिए 8.5 प्रतिशत की ब्याज दर सुनिश्चित की गई है

नई दिल्ली। अगर आप नौकरीपेशा लोग हैं तो यह खबर आपके लिए है। दरअसल, कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( EPFO ) ने चालू वित्त वर्ष यानी 2020-21 में देश के लगभग छह करोड़ PF अकाउंट होल्डर्स को उनके प्रोविडेंट फंड के लिए ब्याज तय कर दिया है। श्रीनगर में होने वाली ईपीएफओ के ट्रस्टी बोर्ड की बैठक में मौजूदा वित्त वर्ष के लिए 8.5 प्रतिशत की ब्याज दर सुनिश्चित की गई हैं। इसका मतलब यह है कि इस बार ब्याज की दरों में कोई बदलाव नहीं किया गया है। एक्सपर्ट इसको कर्मचारियों के लिए राहत मानकर चल रहे हैं।

BJP का कौन सांसद किसान आंदोलन के समर्थन में देगा इस्तीफा? टिकैत ने बढ़ाई सरकार की चिंता

वर्ष 2021 के लिए ट्रस्टीज बोर्ड ने ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया गया

दरअसल, माना जा रहा था कि कोरोना महामारी के चलते प्रोविडेंट फंड की ब्याज दरों में कटौती की जा सकती है। श्रम व रोजगार मंत्रालय की ओर से जारी एक बयान में बताया गया कि वर्ष 2021 के लिए ट्रस्टीज बोर्ड ने ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया गया है। इसके पीछे सबसे बड़ा कारण ईपीएफओ द्वारा लोन और शेयर्स से आय प्राप्त करना है। यही वजह है कि वो अपने सब्सक्राइबर्स को अधिक रिर्टन दे पा रहा है। आपको बता दें कि पीएफ पर ब्याज दरें पहले से ही सात साल के निचले स्तर पर बनी हुई हैं, ऐसे में अगर ब्याज दरों में कटौती होती तो इससे खाताधारकों को काफी नुकसान होने वाला था।

मौसम विभाग की चेतावनी: इस बार पड़ेगी झुलसाने वाली गर्मी, इन इलाकों को तपाएगी सूरज की तपिश

कोरोना काल के चलते लोगों ने भारी तदाद में प्रोविडेंड फंड से एडवांस रकम ली

आपको बता दें कि कोरोना काल के चलते लोगों ने भारी तदाद में प्रोविडेंड फंड से एडवांस रकम ली है। वहीं, दूसरे और बड़ी संख्या में नौकरियां जाने से भी पीएफ में योगदान निचले स्तर पर पहुंच गया है। यही वजह है कि ईपीएफओ को पिछली दरों पर ब्याज देने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ईपीएफओ की ओर से जारी एक रिपोर्ट के अनुसार 31 दिसंबर 2020 तक कोरोना महामारी में चालू की गई एडवांस स्कीम के अंतर्गत लोगों को 14,310.21 करोड़ रुपए लौटाई है।

Show More
Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned