उत्तराखंडः जोशीमठ में सुरंग के अंदर बचाव अभियान को रोका, पानी का स्तर अचानक बढ़ा

Highlights

  • निचले इलाकों को खाली करने के आदेश दिए गए हैं।
  • ड्रिलिंग जारी रखते तो चट्टानें अस्थिर होतीं और समस्याएं बढ़ जाएंगी।

नई दिल्ली। उत्तराखंड में चमोली जिले के जोशीमठ में जेसीबी मशीन उपकरण और बचाव दल सुरंग से लोगों को बाहर निकल रहे हैं। यहां बचाव अभियान चल रहा है। मगर ऋषिगंगा नदी में पानी के स्तर में वृद्धि के कारण इस अभियान को अस्थायी रूप से रोक दिया गया है। उत्तराखंड डीजीपी अशोक कुमार के अनुसार नदी में पानी के स्तर में वृद्धि के कारण बचाव अभियान अस्थायी रूप से रोका गया है। निचले इलाकों को खाली करने के आदेश दिए गए हैं।

राजनाथ सिंह का बड़ा बयान - पैंगोंग लेक से सेना की वापसी पर भारत-चीन के बीच समझौता, हमने कुछ नहीं खोया

छह मीटर ड्रिलिंग में आया पानी

एनटीपीसी परियोजना निदेशक उज्जवल भट्टाचार्य के अनुसार ड्रिलिंग के बाद हम छह मीटर की दूरी तक पहुंच गए और फिर महसूस हुआ कि वहां पानी आ रहा है। अगर हम ड्रिलिंग जारी रखते तो चट्टानें अस्थिर होतीं और समस्याएं बढ़ जातीं। ऐसे मेें हमने ड्रिलिंग ऑपरेशन को कुछ समय के लिए स्थगित कर दिया है। बताया जा रहा है कि अलकनंदा नदी का जल स्तर दो गुना ज्यादा हो गया है। अभी भी राहत बचाव कार्य रुका हुआ है।

Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned