scriptसीरम के सीईओ अदार पूनावाला ने ट्वीट कर कुछ दिनों में भारत वापस आने का दावा किया | Serum CEO Adar Poonawala tweeted to be back in India in few days | Patrika News

सीरम के सीईओ अदार पूनावाला ने ट्वीट कर कुछ दिनों में भारत वापस आने का दावा किया

locationनई दिल्लीPublished: May 02, 2021 03:22:34 pm

Submitted by:

Mohit Saxena

पूनावाला वैक्सीन की मांग को लेकर बढ़ते दबाव और धमकियों के बीच अपने परिवार के साथ लंदन में हैं।

Adar Poonawalla

Adar Poonawalla

नई दिल्ली। भारत में कोविशील्ड का उत्पादन करने वाले सीरम इंस्टीट्यूट के सीईओ अदार पूनावाला (Adar Poonawalla) वैक्सीन की मांग को लेकर बढ़ते दबाव और धमकियों के बीच अपने परिवार के साथ लंदन जा पहुंचे हैं। अब उन्होंने ट्वीट किया कि वह कुछ दिनों में भारत वापस आएंगे।
यह भी पढ़ें

देश भर में कोरोना संक्रमण बेकाबू, 24 घंटे में तीन हजार से अधिक मौतें

ट्विटर पर उन्होंने लिखा कि ब्रिटेन में सभी पार्टनर और स्टेकहोल्डर्स से मुलाकात हुई है। उन्हें ये बताने में मुझे बेहद खुशी हो रही है कि पुणे में कोविशील्ड (Covid Shield) के उत्पादन का काम जोरो पर है। कुछ दिन में वे वापस आएंगे और संचालन की समीक्षा करेंगे।
मिल रहीं धमकियों की बात कही

लंदन की मीडिया को दिए एक साक्षात्कार के दौरान पूनावाला ने देश के शक्तिशाली और रसूखदार लोगों से फोन पर मिल रहीं धमकियों की बात कही है। उन्होंने कहा कि वैक्सीन की मांग को लेकर बढ़ते तनाव और दबाव को लेकर वे अपने परिवार के साथ लंदन में हैं।
भारत में एक मई से तीसरे चरण के टीकाकरण की योजना की शुरूआत हो चुकी है। इसमें 18 से 44 साल तक के लोगों को टीका दिए जाने का प्रावधान है। मगर अधिकतर राज्यों में टीका नहीं पहुंच पाने की वजह से कई राज्यों में टीकाकरण पर पाबंदी लगी हुई है।
Read more: सीरम के सीईओ अदार पूनावाला को मिली धमकी, बोले- सब कुछ मेरे कंधों पर डाल दिया गया

वाई श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की गई थी

अदार पूनावाला साक्षात्कार में कहा कि वे यहां (लंदन) तय समय से अधिक रुक रहे हैं क्योंकि वे उस परिस्थिति में वापस नहीं जाना चाहते हैं। गौरतलब है कि अदार पूनावाला को बुधवार को वाई श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की गई थी। वाई श्रेणी की सुरक्षा के तहत अब पूनावाला को सीआरपीएफ के पांच कमांडोज सहित 11 सुरक्षाकर्मी मिलेंगे। पूनावाला का कहना है कि फोन पर मिल रही धमकियों को लेकर कहा कि सभी लोग पहले वैक्सीन लगवाना चाहते हैं। ऐसे में उन पर दबाव बढ़ रहा है। उनका आरोप है कि धमकी देने वाले उनसे कह रहे हैं कि अगर वैक्सीन नहीं मिली तो अच्छा नहीं होगा। उन्होंने कहा इन घटनाओं के कारण वे अपना काम नहीं कर पा रहे हैं।
loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो