सुप्रीम कोर्ट ने ठुकराई नेटफ्लिक्स, DTH फ्री करने की मांग, याचिकाकर्ता को दी यह नसीहत

  • सुप्रीम कोर्ट ने वीडियो कॉलिंग, हॉटस्टार ( Hotstar ) फ्री करने की मांग वाली याचिका को ठुकराया
  • सुप्रीम कोर्ट ( Supreme Court ) ने याचिकाकर्ता से कहा कि क्या आप कुछ दाखिल कर सकते हैं

नई दिल्ली। देश में कोरोना महामारी ( Coronavirus outbreak ) के बीच सुप्रीम कोर्ट ( Supreme Court ) ने सोमवार को उस याचिका को खारिज कर दिया, जिसमें अनलिमिटेड कॉलिंग और इंटरनेट, DTH और नेटफ्लिक्स, अमेजन प्राइम, हॉटस्टार को फ्री करने की मांग की गई थी।

एक ओर जहां पूरा देश कोरोना संकट से गुजर रहा है, वहीं इस तरह की याचिका को देखकर सुप्रीम कोर्ट के जज चौंक गए।

याचिका खारिज करते समय सुप्रीम कोर्ट ने याचिकाकर्ता से कहा कि क्या आप कुछ दाखिल कर सकते हैं।

विदेशों में फंसे अपने नागरिकों को निकालने के लिए केरल की अनोखी पहल, जाने क्या लगाया फार्मूला

 

hh.png

गौरतलब है कि मनोहर प्रताप नाम की ओर से देश की सर्वोच्च अदालत में याचिका डाली गई थी, जिसमें कोर्ट से मुफ्त मनोरंजन की मांग की गई थी।

मनोहर प्रताप नाम के वकील ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका डाल कर लॉकडाउन के दौरान फ्री वीडियो कॉलिंग, मुफ्त इंटरनेट सर्विस, डीटीएच, नेटफ्लिक्स, अमेजन प्राइम और हॉटस्टार को बिल्कुल फ्री करने की डिमांड की थी।

सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार का यह याचिका खारिज कर दी।

लॉकडाउन के बीच पत्रकारों को नौकरी से हटाने के खिलाफ पीआईएल पर केंद्र से जवाब तलब

 

h.png

आईसीएमआर ने राज्यों से कहा, 2 चीनी कंपनियों की एंटीबॉडी किट इस्तेमाल न करें

आपको बता दें कि देशव्यापी लॉकडाउन के दौरान अधिकांश आबादी अपने-अपने घरों में कैद है।

ये लोग घरों में बैठकर न केवल खूब वीडियो कॉलिंग कर रहे हैं, बल्किर इंटरनेट और ऑनलाइन वेब सीरीज भी देख रहे हैं। इसी की वजह से सुप्रीम कोर्ट में यह याचिका दायर की गई थी।

 

Show More
Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned