तेलंगाना में 12 मई से 10 दिन के लिए संपूर्ण लॉकडाउन लागू

मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने राज्य में कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर लॉकडाउन की घोषणा की। लॉकडाउन कल (12, मई बुधवार) से 22 मई तक लागू रहेगा।

हैदराबाद। देश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच कई राज्यों में लॉकडाउन या कर्फ्यू लगाया गया है, ताकि संक्रमण को बढ़ने से रोका जा सके। अब इसी कड़ी में तेलंगाना में 10 दिन के लिए लॉकडाउन लगाया गया है।

मंगलवार को मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने लॉकडाउन की घोषणा करते हुए कहा कि राज्य में कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर यह फैसला लेना जरूरी थी। लॉकडाउन कल (12, मई बुधवार) से 22 मई तक लागू रहेगा।

यह भी पढ़ें :- कोरोना संकट : आंध्र प्रदेश से तेलंगाना इलाज के लिए आ रहे हैं मरीज, बॉर्डर पर एंबुलेंस को रोक रही है पुलिस

लॉकडाउन के दौरान सभी जरूरी गतिविधियां और आवश्यक सेवाओं से जुड़े लोगों को आने-जाने की छूट रहेगी। पूरे राज्य में हर दिन सुबह 6 बजे से 10 बजे तक सभी गतिविधियों की अनुमति होगी। लॉकडाउन को लेकर सरकार थोड़ी देर में पूर्ण दिशा-निर्देश जारी करेगी।

उच्च स्तरीय बैठक के बाद लिया फैसला

आपको बता दें कि तेलंगाना सरकार ने मंगलवार को कोविड-19 स्थिति के मद्देनजर राज्यव्यापी लॉकडाउन लगाने के संबंध में निर्णय लेने को लेकर एक उच्च स्तरीय बैठक की। मुख्यमंत्री केसीआर की अध्यक्षता में राज्य के शीर्ष अधिकारियों ने बैठक में पूर्ण लॉकडाउन को लेकर चर्चा की।

यह भी पढ़ें :- कोरोना से जंग में सेना के रिटायर डॉक्टर्स की मदद लेगा केंद्र, तेलंगाना में 50 हजार मेडिकल छात्रों की तुरंत नियुक्ति

तेलंगाना सीएमओ ने जानकारी देते हुए बताया कि राज्य के शीर्ष अधिकारियों ने कोविड-19 मामलों के हालिया उछाल पर चर्चा की और पूर्ण लॉकडाउन लगाने के पक्ष में निर्णय लिया। इससे पहले राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में राज्यव्यापी तालाबंदी को लेकर दोपहर 2 बजे प्रगति भवन में चर्चा आयोजित की जाएगी।

तेलंगाना मुख्यमंत्री कार्यालय ने सोमवार शाम को कहा था कि, ‘कुछ रिपोर्टों में यह सुझाव दिया गया है कि कुछ राज्यों में लॉकडाउन लगाने के बावजूद कोरोना वायरस के मामलों में कोई कमी नहीं आई। इसके विपरीत, लॉकडाउन को लेकर अलग-अलग विचार सामने आ रहे हैं। कुछ लोग राज्य में लॉकडाउन लगाने के पक्ष में हैं। इस परिस्थितियों में, राज्य कैबिनेट लॉकडाउन से होने वाले फायदे व नुकसान पर चर्चा करेगी और क्या धान की रोपनी व उससे संबंधित कार्यों पर लॉकडाउन का असर पड़ सकता है? इस पर भी निर्णय लिया जाएगा।’

Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned