तमिलनाडु: ऑनलाइन पढ़ाई के लिए छात्र-छात्राओं को मिलेगा फ्री डेटा

  • मिलनाडु के मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने घोषणा किया है कि राज्य के सभी छात्र-छात्राओं को मुफ्त डेटा कार्ड दिया जाएगा।
  • सरकार छात्रों को प्रति दिन 2 जीबी फ्री इंटरनेट डेटा देगी

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के कारण अभी भी ज्यादातर स्कूलों पर ऑनलाइन पढ़ाई हो रही है। बच्चे भी घर से ही इंटरनेट के जरिए पढ़ाई कर रहे हैं। ऐसे में तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के पलानीस्वामी ने आज यानी रविवार को घोषणा किया है कि कॉलेज के छात्र-छात्राओं को मुफ्त डेटा कार्ड दिया जाएगा।तमिलनाडु सरकार छात्रों को प्रति दिन 2 जीबी फ्री इंटरनेट देने की बात कह रही है।

तमिलनाडु के बाद अब इस राज्य में भी 100 फीसदी क्षमता के साथ खुलने जा रहे Cinema घर, नहीं रहा Corona का डर!

इस योजना के शुरू करते हुए तमिलनाडु के मुख्यमंत्री पलानीस्वामी ने कहा कि कोरोना महामारी के कारण, कॉलेज छात्रों के लिए ऑनलाइन क्लास आयोजित की जा रही हैं। लेकिन कई ऐसे भी छात्र हैं जो गरीब परिवार से हैं और उनके पास डेटा खरीदने के लिए पैसे नहीं है। ऐसे में सभी छात्रों को ऑनलाइन कक्षाओं में भाग ले सकें इसके लिए हमने जनवरी से अप्रैल के बीच प्रतिदिन 2 जीबी की क्षमता के साथ मुफ्त डेटा कार्ड देने का फैसला किया गया है ।

मिली जानकारी के मुताबिक ये फैसला ये योजना सरकारी स्कूलों, सरकारी सहायता प्राप्त स्कूलों और सरकारी पॉलिटेक्निक के छात्रों के लिए है। सरकार प्रदेश के सभी स्‍कूलों के छात्र छात्राओं को यह इंटरनेट डेटा कार्ड बांटेंगी। जिसके उन्हें ऑनलाइन पढ़ाई करने में किसी भी दिक्कत का सामना ना करना पड़े।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक राज्य सरकार के उपक्रम इलेक्ट्रॉनिक्स कॉपोर्रेशन ऑफ तमिलनाडु लिमिटेड सरकारी और सरकारी सहायता प्राप्त कॉलेजों में पढ़ने वाले लगभग 9.69 लाख छात्रों को डेटा कार्ड जारी करेगी। इस योजना के बारे में पलानीस्वामी ने अक्टूबर 2020 में बताया था। तब उन्होंने कहा था कि इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव में पार्टी का मार्गदर्शन करने के लिए 11 सदस्यीय संचालन समिति के गठन की घोषणा की गई थी।

मुख्यमंत्री पलनीस्वामी ने कोविड-19 की स्थिति पर मासिक उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक की

बता दें उस वक्त इससे जुड़ा एक अफवाह भी वायरल हुआ था। जिसमें दावा किया गया था, मोदी सरकार छात्रों को प्रति दिन 10 जीबी फ्री इंटरनेट दे रही है। जो पूरी तरस से फेक थी।

Vivhav Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned