US : उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने ट्रंप को हटाने से किया इनकार, महाभियोग पर बहस शुरू

  • माइक पेंस ने नैंसी पेलोसी को खत लिखकर स्थिति साफ किया।
  • कुछ रिपब्लिकन सिनेटर्स में ट्रंप के खिलाफ।

 

नई दिल्ली। अमरीका के उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने डेमोक्रेट्स सांसदों के दबाव में निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को पद से हटाने के लिए संविधान के 25वें संशोधन का इस्तेमाल करने से इनकार कर दिया है। पेंस ने बीती रात स्पीकर नैंसी पेलोसी को ख़त लिखकर स्पष्ट कर दिया है कि उनका या फिर ट्रंप कैबिनेट के अन्य साथियों का ऐसा कोई इरादा नहीं हैं। उन्होंने कहा है कि किसी भी देश के लिए सबसे शर्म की बात है कि कोई चुना हुआ राष्ट्रपति अपना कार्यकाल न पूरा कर पाए और उसे निकाल दिया जाए।

America: Trump का ट्विटर अकाउंट बंद होने के बाद चर्चा में है यह महिला, जानिए कौन हैं ये?

प्रस्ताव पर बहस जारी

दूसरी तरफ अमरीकी संसद में ट्रंप के खिलाफ महाभियोग के प्रस्ताव पर बहस शुरू हो गई है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिाक कई रिपब्लिकन सीनेटर्स ने भी ट्रंप को हटाने के समर्थन में वोट करने का ऐलान कर दिया है। ट्रंप को 25वें संशोधन के जरिए हटाने का प्रस्ताव मैरीलेंड के डेमोक्रेट रिप्रेजेंटेटिव जेमी रस्किन ने पेश किया था। प्रस्ताव के मुताबिक पेंस और अन्य कैबिनेट मेम्बर्स को सेक्शन 4 और 25वें अमेडमेंट का इस्तेमाल कर तुरंत ट्रंप को हटा देना चाहिए। डेमोक्रेट्स की मांग थी कि ट्रंप को हटाकर शपथ ग्रहण तक पेंस कार्यकारी राष्ट्रपति बनाकर जिम्मेदारी संभालें।

हालांकि पेंस ने स्पष्ट कहा कि ट्रंप के कार्यकाल में अब सिर्फ 8 दिन बचे हैं और आप डेमोक्रेट्स चाहते हैं कि मैं राष्ट्रपति को हटाने के लिए 25वें संशोधन का इस्तेमाल करूं. मैं ऐसा करना ज़रूरी नहीं समझता और ये फैसला इस देश के हित में ही लिया गया है.

Donald Trump
Dhirendra
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned