आंध्र प्रदेश में कोविड-19 वैक्सीन की कमी से टीकाकरण प्रभावित, सरकार ने लोगों को पहला डोज लगाना किया बंद

आंध्र प्रदेश में मौजूदा स्थिति ऐसी है कि 45 साल से ज्यादा आयुवर्ग के कम से कम 17,93,555 लोग टीके की दूसरी खुराक का इंतजार कर रहे हैं, लेकिन राज्य सरकार के पास सभी को टीका लगाने के लिए खुराक उपलब्ध नहीं है।

अमरावती। देश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच कई राज्यों में वैक्सीन व दवा की कमी की वजह से टीकाकरण अभियान में तेजी नहीं आ पा रही है। 1 मई से 18 से 44 साल के लोगों के लिए टीकाकरण अभियान शुरू किया गया है, लेकिन कई राज्यों में पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन उपलब्ध नहीं होने की वजह से टीकाकरण नहीं हो पा रहा है।

इन्ही में से एक राज्य है आंध्र प्रदेश। आंध्र प्रदेश में वैक्सीन की पर्याप्त मात्रा उपलब्ध नहीं होने की वजह से टीकाकरण अभियान में रुकावटें आ रही है। मौजूदा स्थिति ऐसी है कि 45 साल से ज्यादा आयुवर्ग के कम से कम 17,93,555 लोग टीके की दूसरी खुराक का इंतजार कर रहे हैं, लेकिन राज्य सरकार के पास सभी को टीका लगाने के लिए खुराक उपलब्ध नहीं है।

यह भी पढ़ें :- दिल्ली की तर्ज पर छत्तीसगढ़ के इस जिले में भी बुजुर्गों के लिए ड्राइव इन वैक्सीनेशन, कार में आइए टीका लगाइए

सबसे बड़ी बात कि कोरोना टीका की दूसरी डोज के लिए इंतजार करने वालों में बड़ी संख्या में स्वास्थ्यकर्मी और कोरोना योद्धा भी शामिल हैं। वैक्सीन उपलब्ध नहीं होने की वजह से स्थित खराब है। लिहाजा सरकार ने लोगों को पहला टीका ही लगाना बंद कर दिया है।

केंद्र सरकार की ओर से आंध्र प्रदेश को प्रति पखवाड़े टीके के लिए 10 लाख डोज आवंटित किए हैं और इस पखवाड़े में अभी तक उसे सिर्फ 8.5 लाख डोज मिले हैं। दूसरी तरफ, आंध्र प्रदेश सरकार ने सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया और भारत बायोटेक से सीधे पांच लाख डोज खरीदे हैं और 12 लाख डोज के दूसरे खेप का इंतजार कर रही हैं।

केंद्र सरकार ने आंध्र प्रदेश को वैक्सीन की 73 लाख खुराक दी

आंध्र प्रदेश के प्रधान सचिव (स्वास्थ्य) अनिल कुमार सिंघल ने बताया कि मई के पहले पखवाड़े में अभी तक 5,96,789 लोगों को टीका (दूसरा डोज) लगाया गया है और 6,96,941 लोगों को अभी लगना है। दूसरे पखवाड़े में और 10,96,614 दूसरा खुराक दिया जाना है। राज्य ने इस महीने नए लोगों को कोविड-19 टीके का पहला डोज लगाना बंद कर दिया है और जिन्हें दूसरा डोज लगना है, उन्हें प्राथमिकता दे रहा है।

यह भी पढ़ें :- कांग्रेस MLA के बाद अब BJP विधायक की पत्नी ने घर पर लगवाया टीका, सोशल मीडिया पर फूट रहा लोगों का आक्रोश

केंद्र सरकार की ओर से राज्य को वैक्सीन की 73,49,960 खुराक मिली हैं। इनमें से 60,60,400 कोविशील्ड और 12,89,560 कोवैक्सीन की खुराक है। अभी तक स्वास्थ्यकर्मियों, कोरोना योद्धाओं और 45 साल से ज्यादा आयुवर्ग के लोगों को टीके के 73,00,460 डोज (पहला और दूसरा मिलाकर) लगाए गए हैं। वहीं, टीके की कमी के कारण राज्य में 14 से 44 साल आयुवर्ग के लोगों का एक मई से होने वाला टीकाकरण शुरू नहीं हो पाया है।

अनिल सिंघल ने आगे कहा कि सामान्य आवंटन के हिसाब से हमें कोविशील्ड के 9.91 लाख डोज मिलने चाहिए। आवंटित किए गए कोवैक्सीन के 3.43 लाख डोज में से हमें अभी तक 1,43,930 डोज मिले हैं। हमें बीते दिन कोविशील्ड के अतिरिक्त 3.50 लाख डोज मिले हैं।

Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned