Weather Update: त्योहारी सीजन में बदलेगा मौसम का मिजाज, अगले 24 घंटे में UP-हरियाणा व दिल्ली में होगी बारिश

HIGHLIGHTS

  • Weather Update: पश्चिमी विक्षोभ के कारण रविवार को देशभर के कई राज्यों में इस सीजन की पहली बारिश हो सकती है।
  • मौसम विभाग के अनुसार, यदि हल्की बारिश हुई तो राजधानी दिल्ली में वायु प्रदुषण का लेबल बढ़ सकता है, जबकि तेज बारिश होने पर मौसम साफ हो जाएगा।

नई दिल्ली। कोरोना संकट ( Corona Crisis ) के बीच जहां पूरे देश में लोग दीपावली ( Dipawali 2020 ) का उत्सव मना रहे हैं, वहीं इस उत्सव में मौसम खलल डाल सकता है। दरअसल, पश्चिमी विक्षोभ के कारण रविवार को इस सीजन की पहली बारिश हो सकती है।

देशभर के कई राज्यों में हल्की या फिर तेज बारिश हो सकती है। मौसम विभाग के अनुसार, यदि हल्की बारिश हुई तो राजधानी दिल्ली में वायु प्रदुषण का लेबल बढ़ सकता है, जबकि तेज बारिश होने पर मौसम साफ हो जाएगा।

Weather Update : 8 से ज्यादा राज्यों में बारिश के आसार, दिल्ली में शीतलहर की आशंका के बीच इस बार ज्यादा दिन पड़ेगी ठंड

एक दिन पहले शुक्रवार को राजधानी दिल्ली में अधिकतम तापमान सामान्य से एक डिग्री अधिक 29.7 और न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री कम 12.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं हवा में नमी का स्तर 39 से 95 फीसद रहा।

मौसम विभाग के अनुसार, आज शनिवार को आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे। इसके अलावा धुंध बढ़ने के साथ अधिकतम तापमान 30 और न्यूनतम तापमान 12 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है। बारिश होने का बाद सोमवार से अधिकतम तापमान में गिरावट देखने को मिल सकती है और ठंड बढ़ने की संभावना है।

UP-हरियाणा और दिल्ली में बारिश की संभावना

मौसम विभाग के अनुसार, त्योहारी सीजन में राजधानी दिल्ली, एनसीआर, पंजाब, उत्तर प्रदेश और हरियाणा में बारिश होने की संभावना है।

स्काईमेट वेदर ने कहा है कि शनिवार और रविवार को हवा की दिशा दक्षिण-पश्चिमी या दक्षिण-पूर्वी रहेगी। इसके कारण पंजाब-हरियाणा से पराली जलाने का धुआं राजधानी तक नहीं आएगा। जिसके कारण इस साल दीपावली के मौके पर दिल्ली में कम प्रदूषण रहने के आसार हैं।प्रइसके साथ पराली का धुआं नहीं आएगा। ऐसे में पिछले सालों की तुलना में इस दीपावली के बाद प्रदूषण थोड़ा कम रहने के आसार हैं।

कम बारिश से बढ़ा प्रदूषण

मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो रविवार को 12 किमी प्रतिघंटे रफ्तार की हवा के साथ बारिश हो सकती है, जिसके कारण राजधानी में प्रदूषण को स्तर में सुधार देखने को मिल सकता है।

weather update देश के इन राज्यों में बारिश के आसार, उत्तर भारत में लुढ़का पारा

वैज्ञानिकों के मुताबिक, इस साल मानसून के दौरान बारिश कम हुई, जिसका असर मौसम पर साफ देखा जा सकता है। कम बारिश की वजह से वायु प्रदूषण के स्तर में बढ़ोतरी देखी गई है। कम बारिश से कई वर्षों का रिकॉर्ड टूटा है। हालांकि मानसून समय से आया, लेकिन कम बारिश के साथ पहले ही अक्टूबर में ही चला गया।

weather update rainfall alert
Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned