कब तक देश में लोगों को मिलेगी कोरोना वैक्सीन की पहली डोज, स्वास्थ्य मंत्री ने दी जानकारी

  • केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने सोमवार को बताई वैक्सीन की कहानी।
  • बताया कि जुलाई-अगस्त 2021 तक मिलेगा कोरोना वैक्सीन ( Corona vaccine ) का पहला डोज।
  • देश में सबसे पहले कोरोना वैक्सीन डोज देने के लिए चुने जा चुके हैं 30 करोड़ लोग।

नई दिल्ली। कोरोना वायरस महामारी से जुड़े तमाम अपडेट्स के बीच भारत ही नहीं पूरी दुनिया को जिस बात का सबसे ज्यादा इंतजार है, वो है कोरोना वैक्सीन। आए दिन इससे जुड़ी तमाम जानकारियों के साथ ही वैक्सीन ( Corona vaccine ) को लेकर भी कई बातें सामने आ रही हैं। इन सबके बीच केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने बताया कि भारत में पहले चरण के अंतर्गत लोगों को कब तक कोरोना वैक्सीन लगेगी।

कोरोना वैक्सीन देश में सबसे पहले इन्हें मुफ्त में लगाई जाएगी, सरकार ने बनाई 30 करोड़ लोगों की लिस्ट

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने सोमवार को कहा कि केंद्र सरकार अगले साल जुलाई-अगस्त तक लगभग 25-30 करोड़ लोगों को कोरोना वायरस के टीके उपलब्ध कराने की योजना बना रही है। स्वास्थ्य मंत्री ने संवाददाताओं से कहा, कहा, "अगले साल के पहले 3-4 महीनों में ऐसी संभावना है कि हम देश के लोगों को वैक्सीन प्रदान करने में सक्षम होंगे। जुलाई-अगस्त तक, हमारे पास लगभग 25-30 करोड़ लोगों को टीके उपलब्ध कराने की योजना है। हम तदनुसार तैयारी कर रहे हैं।"

उन्होंने कहा, "मैं सभी को COVID-19 के उचित व्यवहार को याद रखने और उनका पालन करने का अनुरोध करना चाहूंगा, जैसे मास्क पहनना और सामाजिक दूरियों का पालन करना। ये स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण हैं।" इंडियन रेड क्रॉस सोसाइटी (IRCS) के अध्यक्ष डॉ. हर्षवर्धन ने सोमवार को पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन पर मास्क और भी साबुन वितरित किए।

डॉ. हर्षवर्धन ने कहा, "हम जल्द ही COVID के खिलाफ हमारी लड़ाई में ग्यारह महीने पूरे कर रहे हैं। तब से अपनी और दूसरों की सुरक्षा के लिए सबसे महत्वपूर्ण सिद्धांत स्वच्छता और फिजिकल डिस्टेंसिंग के बुनियादी सिद्धांतों का पालन करना है। कोरोना के खिलाफ लड़ाई में हमारा सबसे बड़ा हथियार मास्क और सैनेटाइजर है।"

केंद्रीय मंत्री ने इस बात पर भी प्रकाश डाला कि भारत में पूरी दुनिया में सबसे अधिक रिकवरी रेट है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा, "जनवरी 2020 में 1 लैब से अब हमारे पास 2,165 लैब हैं। दैनिक आधार पर 10 लाख से अधिक लोगों का परीक्षण किया जा रहा है। हमने आज 14 करोड़ संचयी परीक्षण पूरे कर लिए हैं। यह सब सरकार के दृढ़ संकल्प और हमारी कोरोना योद्धाओं के अथक प्रयासों को दर्शाता है, जिनका योगदान महामारी से लड़ने में महत्वपूर्ण रहा है।"

COVID-19 Vaccine के कितनी खुराक के लिए भारत, अमरीका समेत अन्य देशों ने दिए ऑर्डर, ये रही लिस्ट

उन्होंने आगे कहा, "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कुशल मार्गदर्शन में, भारत मास्क, पीपीई किट, वेंटिलेटर आदि के उत्पादन में आत्मनिर्भर हो गया है। भारत में हर दिन 10 लाख से अधिक पीपीई किट का निर्माण किया जा रहा है। और अब, हमारे वैज्ञानिक वैक्सीन के लिए शोध में तेजी से जुटे हैं और यह समय पर उपलब्ध होगी।"

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के सोमवार के आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटों में 38,772 नए संक्रमणों के बाद भारत के कोरोना वायरस वायरस मामले ने 94 लाख का आंकड़ा पार कर लिया है। देश में कोरोना वायरस के कुल मामले 94,31,692 तक पहुंच गए हैं। इनमें 4,46,952 एक्टिव केस और 88,47,600 रिकवर्ड केस हैं। बीते 24 घंटों में 443 नई मौतों के साथ अब तक हुई मौत का कुल आंकड़ा 1,37,139 हो गया है।

Show More
अमित कुमार बाजपेयी
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned