योगेंद्र यादव बोले- ट्रैक्टर परेड पर दिल्ली पुलिस के साथ बनी किसानों की सहमति, ऐसा दिखेगा नजारा

  • कृषि कानूनों को लेकर केद्र और किसान संगठनों के बीच गतिरोध समाप्त नहीं हुआ है
  • किसानों ने गणतंत्र दिवस के दिन दिल्ली में ट्रैक्टर रैली निकालने की घोषणा की है

नई दिल्ली। कृषि कानूनों ( New Farm Laws ) को लेकर अभी केद्र और किसान संगठनों के बीच गतिरोध ( Deadlock between central and farmer organizations ) समाप्त नहीं हुआ है। हालांकि पिछले बैठक में सरकार ने डेढ़ साल तक कानूनों को न लागू करने की बात कही, लेकिन किसानों ने इस केंद्र के इस प्रस्ताव खारिज कर दिया। इसके साथ ही किसानों ने गणतंत्र दिवस ( republic day parade ) के दिन दिल्ली में ट्रैक्टर रैली निकालने की घोषणा की है। इस बीच दिल्ली पुलिस ( delhi police ) ने भी किसानों को ट्रैक्टर परेड निकालने की अनुमति दे दी है। हालांकि किसानों को कल तक दिल्ली पुलिस को अपने ट्रैक्टर मार्च का रूट की जानकारी देनी होंगी।

Kolkata: PM Modi के मंच पर अचानक क्यों बिफर गईं ममता बनर्जी? बोलीं- यूं अपमान करना ठीक नही

किसानों को दिल्ली में प्रवेश के अनुमति मिल गई

स्वराज इंडिया के अध्यक्ष योगेन्द्र यादव ( Yogendra Yadav of Swaraj India ) ने कहा कि किसानों को दिल्ली में प्रवेश के अनुमति मिल गई है। उन्होंने कहा कि किसान 26 जनवरी को किसान गणतंत्र परेड निकालेंगे। सभी बैरिकैड्स को हटा लिया जाएगा और हम दिल्ली में प्रवेश कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि हमारे और दिल्ली पुलिस के बीच में ट्रैक्टर परेड के रूट को लेकर एक समझोता हुआ है, जिस पर आज रात विचार विमर्श किया जाएगा। योगेन्द्र यादव ने कहा कि किसानों की परेड का गणतंत्र दिवस के अधिकारिक कार्यक्रम और इसकी सुरक्षा व्यवस्था पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा। इसके लिए अन्य किसानों से भी परेड़ दौरान शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील की गई है।

Jammu-Kashmir: गणतंत्र दिवस से पहले बड़ी आतंकी साजिश का खुलासा: बॉर्डर पर खोजी 150 मीटर लंबी सुरंग

कमेटी द्वारा जारी किए गए निर्देशों का भी पालन करें किसान

वहीं, भारतीय किसान यूनियन के गुरनाम सिंह चदूनी ने कहा कि मैं ट्रैक्टर परेड में शामिल होने वाले सभी किसान भाइयों से अपील करता हूं कि वह पूरी से शांति और अनुशासन बनाए रखें। इसके साथ ही कमेटी द्वारा जारी किए गए निर्देशों का भी पालन करें। आपको बता दें कि नए कृषि कानूनों के विरोध में पंजाब, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के लाखों किसान राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के अलग-अलग प्रवेश मार्गों पर प्रदर्शन कर रहे हैं। इसके साथ ही सैंकड़ों की तदाद में किसान हाथ में तिरंगा झंड़ा और गुब्बारे लिए दिल्ली में प्रवेश करने को तैयार हैं। पंजाब के नेता ने बताया कि लगभग तीस हजार ट्रैक्टर ट्रॉली दिल्ली की परेड में शामिल होने के लिए पंजाब से रवाना हो गए हैं।

Corona और Bird Flu के बीच देश के इस राज्य में फैला रहस्यमयी बीमारी का प्रकोप, ये हैं लक्षण

परेड में किसान कम से कम बीस राज्यों का प्रदर्शन करेंगे

माना जा रहा है कि गणतंत्र दिवस की परेड में किसान कम से कम बीस राज्यों का प्रदर्शन करेंगे। इस बीच किसानों ने कहा कि परेड में केवल तिरंगा लगे वाहनों को ही प्रवेश दिया जाएगा। इसके साथ ही किसी भी राजनीतिक दल या उसके झंडे लगे वाहनों को अनुमति नहीं दी जाएगी।

republic day parade
Show More
Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned